अमरीका ने पाकिस्तान के रास्ते का इस्तेमाल रोका

पाकिस्तान, अमरीका विरोधी प्रदर्शन, नेटो, अफगानिस्तान

अमरीकी सेना ने अफ़गानिस्तान से पाकिस्तान हो कर जाने वाली अपनी मालवाहक गाड़ियों को रोक दिया है. अमरीकी सेना ने अमरीकी ड्रोन हमलों के ख़िलाफ़ हो रहे प्रदर्शनों की वजह से इन गाड़ियों के ड्राइवरों की सुरक्षा के मद्देनज़र यह कदम उठाया है.

पेंटागन के प्रवक्ता मार्क राइट ने कहा है कि इस फैसले से अफगानिस्तान में मौजूद अमरीकी सेना के रसद और उपकरणों की आवाजाही पर असर नहीं पड़ेगा.

उन्होंने कहा कि "निकट भविष्य में" यह दोबारा शुरू किया जा सकता है.

पाकिस्तानी प्रदर्शनकारियों ने अफगानिस्तान जाने वाली और वहां से आने वाली अमरीकी मालवाहक गाड़ियों को रोक दिया है. पाकिस्तानियों का आरोप है कि अमरीकी ड्रोन विमानों के हमलों में पाकिस्तानी आम नागरिक मारे गए हैं.

प्रदर्शनकारी ट्रक ड्राइवरों को परेशान कर रहे हैं और इस वजह से नेटो का सामान ले जा रहे वाहनों को लौटना पड़ रहा है. यह विरोध प्रदर्शन मुख्यतः पाकिस्तान के उत्तर पश्चिमी प्रांत ख़ैबर पख़्तूनख़्वा की एक सड़क पर केंद्रित है.

दूसरा रास्ता

बीबीसी संवाददाताओं के अनुसार पा किस्तान सरकार ने कहा है कि वो इस रास्ते से सामान की आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है लेकिन भारी अनियमितता पैदा करने वाले इन प्रदर्शनों को रोकने के लिए उसने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है.

अफगानिस्तान में नेटो का सामान लाने और ले जाने के लिए पाकिस्तान में दो मार्ग हैं. दक्षिणी-पश्चिमी बलूचिस्तान प्रांत से अफगानिस्तान जाने वाला मार्ग इन विरोध प्रदर्शनों से प्रभावित नहीं हुआ है.

मरीका ने पहले ही अफगानिस्तान तक सामान पहुँचाने और वापस लाने के लिए ऐसे रास्तों का प्रयोग शुरू कर दिया है जो पाकिस्तान से होकर नहीं जाते.

अमरीकी सेना अफगानिस्तान में मौजूद सैन्य बल में कमी कर रही है इसलिए वो अपने साजो-सामान को वापस अमरीका भेज रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार