चीन करना चाहता है चीजों को 'अदृश्य'

चीन का स्टील्थ विमान

चीन के वैज्ञानिक चीज़ों को अदृश्य करने की तकनीक विकसित करने पर काम कर रहे हैं. ख़बरों के अनुसार चीन इस तकनीक का सैन्य इस्तेमाल कर सकता है.

हांगकांग के अख़बार 'साउथ चाइना मोर्निंग पोस्ट' की एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन की सरकार ने ऐसे शोध समूह को आर्थिक मदद उपलब्ध कराई है जो चीज़ों को आँखों या इलेक्ट्रॉनिक सेंसरों के लिए अदृश्य बना देने की तकनीक पर काम कर रहे हैं.

इस तकनीक का इस्तेमाल स्टील्थ विमान के विकास में किया जा सकता है. हालाँकि वैज्ञानिकों का मानना है कि इस तकनीक को विकसित होने में अभी दशकों लग सकते हैं क्योंकि फिलहाल इनमें इस्तेमाल हो सकने वाले 'सुपर तत्व' उपलब्ध नहीं है.

अख़बार के मुताबिक़ पिछले हफ़्ते झेजियांग यूनिवर्सिटी ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित ऐसे ग्लास पैनल दिखाए गए थे जिनमें कुछ मछलियाँ और बिल्लियाँ अदृश्य हो गईं थी.

हैरी पॉटर फ़िल्म में दिखाए गए जादूई लबादे जैसी चीज बनाने की उम्मीद होने के बावजदू शुरूआत में इस शोध के उप-उत्पाद विकसित किए जाएंगे.

साउथ चाइना मोर्निंग पोस्ट के मुताबिक झेजियांग यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित किया जा रहा एक उपकरण हथियारों और सैनिकों को इंफ्रा रेड सेंसरों के लिए अदृश्य बना देगा.

अदृश्यता पर शोध करने वाला चीन अकेला देश नहीं है.

पिछले महीने ही अमरीका के भौतिक शास्त्रियों ने कहा था कि वे ऐसे बेहद सूक्ष्म इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम की जाँच कर रहे हैं जिसका विकास सभी कोणों से देखने पर किसी चीज़ को अदृश्य बनाने के लिए किया जा सकता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार