जेल में बंद भारतीय कैप्टन सुनील जेम्स रिहा

  • 19 दिसंबर 2013
सुनील जेम्स और उनकी पत्नी

करीब पाँच महीने से पश्चिम अफ्रीका के देश टोगो की जेल में बंद भारतीय नाविक कैप्टन सुनील जेम्स रिहा हो गए हैं.

भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरुद्दीन ने ट्वीट किया है, "एकरा में भारत के उच्चायुक्त और टोगो के राष्ट्रपति ग्नैसिंग्बे की बीच हुई बैठक के बाद कैप्टन सुनील जेम्स और विजयन नामक भारतीय नाविकों को रिहा कर दिया गया है."

एकरा टोगो के पड़ोसी देश घाना की राजधानी है.

कैप्टन सुनील जेम्स और विजयन पिछले पाँच महीने से पश्चिम अफ्रीकी देश टोगो की जेल में बंद थे.

सुनील को उनके जहाज़ 'एमटी ओसियन सेंचुरियन' पर टोगो के निकट हुए समद्री लुटेरों के हमले के दौरान लुटेरों की मदद करने के आरोप में गिरफ़्तार कर लिया गया था.

सुनील जेम्स का परिवार इस साल जुलाई से ही उनकी रिहाई के लिए संघर्ष कर रहा था.

परिवार की अपील

रिहा नाविक करीब पाँच महीने से टोगो की जेल में थे.

उनका परिवार उनकी रिहाई में भारतीय अधिकारियों के सहयोग की अपील करने के लिए पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री से मिला था.

सुनील के 11 महीने के बेटे विवान की इस महीने सेप्टीसीमिया से मृत्यु हो गई थी. बच्चे का शव अभी भी भी शवगृह में रखा हुआ है ताकि उसके पिता उसे एक आख़िरी बार देख सकें.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार बुधवार को कांग्रेस के सांसद संजय निरुपम ने संसद में सुनील जेम्स की रिहाई का मुद्दा उठाते हुए विदेश मंत्री सलमान ख़ुर्शीद से टोगो के विदेश मंत्री से बात करके सुनील की रिहाई सुनिश्चित कराने की अपील की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार