मिस्र: पूर्व प्रधानमंत्री हिशाम कांदिल गिरफ्तार

मिस्र में पुलिस ने पूर्व प्रधानमंत्री हिशाम कांदिल को गिरफ्तार कर लिया है. कांदिल अपदस्थ राष्ट्रपति मोहम्मद मोर्सी के शासनकाल के दौरान प्रधानमंत्री थे.

मिस्र के गृह मंत्रालय ने बताया है कि हिशाम कांदिल को तस्करों के साथ पहाड़ी क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया, जहां से वो सूडान पलायन करने की तैयारी कर रहे थे.

कांदिल को पद पर रहने के दौरान एक कंपनी का फिर से राष्ट्रीयकरण करने के अदालत के आदेश का पालन नहीं करने पर एक साल जेल की सजा दी गई थी. इस कंपनी का 1996 में निजीकरण किया गया था.

सेना के हाथों मोहम्मद मोर्सी की सत्ता उखाड़ फेंकने के दो महीने बाद काहिरा की एक अपीलीय अदालत ने हिशाम कांदिल को सुनाई गई सजा को सही ठहराया था.

युवा प्रधानमंत्री

कांदिल ने यूरोपीय संघ के मध्यस्थों के साथ हुई एक बैठक के दौरान मोर्सी समर्थक इस्लामी समूह के गठजोड़ का प्रतिनिधित्व किया था.

इस बैठक का मकसद परिवर्तन की पूरी तरह से समावेशी प्रक्रिया के लिए अंतरिम सरकार को राजी करना था, जिसमें मुस्लिम ब्रदरहुड भी शामिल हो. इस अंतरिम सरकार का गठन सेना ने किया है.

अगस्त में मुस्लिम ब्रदरहुड नेताओं पर कार्रवाई की मांग तेज़ होने के बाद कांदिल चर्चा में आने से बचते रहे हैं. इस कार्रवाई के दौरान सैकड़ों लोग मारे गए और हजारों गिरफ्तार कर लिए गए.

हालांकि, कांदिल ब्रदरहुड या किसी अन्य इस्लामिक राजनीतिक संगठन के सदस्य नहीं हैं, लेकिन बताया जाता है कि वो धार्मिक हैं.

कांदिल 1954 से लेकर 2012 के बीच मिस्र के सबसे युवा प्रधानमंत्री हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार