मिस्र: सेनाध्यक्ष लड़ सकते हैं राष्ट्रपति का चुनाव

मिस्र के सेना प्रमुख
Image caption सिसी चुनाव लड़ने के संकेत पहले भी दे चुके हैं

मिस्र के सेना प्रमुख अब्देल फतह अल सिसी राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ सकते हैं.

सरकारी मीडिया ने सिसी के हवाले से ख़बर दी है कि यदि लोग उनसे आग्रह करें और सेना उनका समर्थन करे तो वो राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ेंगे.

सरकारी अखबार अल-अहराम ने सिसी के बयान को कुछ इस तरह लिखा है, "यदि मैं ख़ुद को नामित करता हूं तो इसकी ज़ोरदार तरीके से माँग की जानी चाहिए और मेरी सेना का मुझे पूरा समर्थन मिलना चाहिए."

एक सरकारी अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया कि यदि चुनाव लड़ने के लिए लोग मांग करते हैं तो वो उसको ठुकरा नहीं सकते.

संदेह

हाल ही में कुछ खबरों में कहा जा रहा था कि सेनाध्यक्ष की निग़ाह राष्ट्रपति चुनाव पर लगी हुई है.

अल सिसी का ये ताज़ा बयान ऐसे समय में आया है जबकि कुछ ही दिनों में नए संविधान के लिए जनमत संग्रह होने जा रहा है.

बीबीसी के अरब मामलों के जानकार सेबेस्टियन अशर का कहना है कि सेनाध्यक्ष जब तक अपना पद नहीं छोड़ते हैं तब तक लोगों को उनके राष्ट्रपति चुनाव लड़ने पर संदेह है जो इसी साल होने वाले हैं.

मिस्र के अपदस्थ राष्ट्रपति मोहम्मद मोर्सी को हटाने में जनरल सिसी की प्रमुख भूमिका थी. मोर्सी और उनके संगठन मुस्लिम ब्रदरहुड के कई नेताओं के खिलाफ़ कई आपराधिक मामले चल रहे हैं.

उनके मुकदमों की सुनवाई इसी हफ्ते होनी थी लेकिन इसे 1 फरवरी तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. अधिकारियों का कहना है कि ख़राब मौसम की वजह से सुनवाई की तारीख़ टालनी पड़ी है.

मोर्सी इस समय अलेक्जेंड्रिया की जेल में बंद हैं जबकि उन पर मुकदमा काहिरा की अदालत में चलेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार