बारक्लेज़ बैंक के ग्राहकों का डाटा बेचा

बरक्लैज़ बैंक इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption बैंक के हज़ारों ग्राहकों का संवेदनशील डाटा चोरी के बाद बेच दिया गया है.

ब्रितानी बैंक बारक्लेज़ के हज़ारों ग्राहकों की गुप्त जानकारी के दस्तावेज़ बेचे जाने के मामले में जाँच शुरू कर दी गई है.

'द मेल ऑन संडे' की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ 27 हज़ार ग्राहकों की जानकारी के दस्तावेज़ कुछ दलालों को बेच दिए गए हैं.

बेचे गए दस्तावेज़ों में ग्राहकों की आर्थिक और स्वास्थ्य संबंधी जानकारियाँ, राष्ट्रीय इंश्यूरेंस स्कीम और पासपोर्ट के नंबर भी हैं.

बारक्लेज़ का कहना है कि उसने नियामक संस्थाओं से संपर्क किया है और वह जाँच में पूरी मदद करेगी.

रिपोर्ट के मुताबिक़ बेचे गए डाटा की काले बाज़ार में क़ीमत कई लाख डॉलर में है क्योंकि इसके ज़रिए ग्राहकों को चूना लगाया जा सकता है.

जिन ग्राहकों का डाटा बेचा गया है उन्होंने बैंक से वित्तिय सलाह लेने के लिए संपर्क किया था. बैंक का यह विभाग 2011 में ही बंद हो गया था.

ब्रितानी सूचना आयुक्त कार्यालय का कहना है कि वे बैंक और अख़बार के साथ मिलकर अधिक जानकारी जुटाने में लगा है.

ब्रिटेन में ग्राहकों का व्यक्तिगत डाटा सार्वजनिक होने पर पाँच लाख पाउंड तक जुर्माने का प्रावधान है.

डरावनी रिपोर्ट

वित्तिय विश्लेषक डेविड बुइक का कहना है कि यह रिपोर्ट डराने वाली है. उनके अनुयार यह विश्वासघात का मामला भी है और यदि यह सही साबित हो जाता है तो यह बहुत ही शर्मनाक होगा.

बारक्लेज़ का कहना है कि जानकारी मिलने के तुरंत बाद बैंक ने नियामक प्राधिकरण से संपर्क किया.

बैंक के एक प्रवक्ता ने कहा, "हम संबंधित ग्राहकों से तुरंत संपर्क करेंगे और उन्हें संभावित ख़तरों के बारे में जानकारी देंगे."

प्रवक्ता ने कहा, "ग्राहकों के डाटा की सुरक्षा बैंक की महत्पूर्ण ज़िम्मेदारी है. यह एक आपराधिक मामला लगता है. हम अपराधी को पकड़ने में जाँच एजेंसियों की मदद करेंगे."

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार