कराची में मज़ार पर हमला, आठ की मौत

कराची पुलिस इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption कराची में सुरक्षा व्यवस्था एक बड़ी चुनौती रही है

पाकिस्तान के सिंध प्रांत की राजधानी कराची में एक मज़ार पर हुए हमले में आठ लोग मारे गए हैं और 16 से ज़्यादा घायल हो गए हैं.

इस साल ये तीसरा हमला है जिसमें किसी मज़ार को निशाना बनाया गया है.

पुलिस के अनुसार ये हमला बदलिया टाउन इलाके में स्थित एक मज़ार पर हुआ.

एसएसपी इरफ़ान बलोच ने बताया कि मोटरसाइकल पर सवार हथियार बंद लोग दरगाह पर एक देसी बम फेंक गए, जिसके बाद वहां गोलीबारी शुरू हो गई.

सिविल अस्पताल के अधिकारियों के अनुसार इस हमले में मारे गए आठ लोगों और घायल हुए 16 लोगों को अस्पताल में लाया गया है.

बलोच का कहना है कि जिस तरह से ये हमला किया गया है, उससे लगता है कि ये किसी चरमपंथी संगठन का काम है.

अभी तक किसी गुट ने इस हमले की ज़िम्मेदारी नहीं ली है.

अशांत कराची

ये हमला ऐसे समय में हुआ है जब सरकार और तालिबान के प्रतिनिधियों की बातचीत हो रही है.

इससे पहले 20 जनवरी को कराची में एक मज़ार के पास तीन लोगों की क्षत विक्षत लाशें मिली थीं.

पुलिस के मुताबिक इन तीन लोगों की उम्र 25 से 30 साल के बीच है और उन्होंने सलवार कमीज़ पहनी हुई हैं.

पिछले महीने ही एक मज़ार से तीन लाशें मिली थीं. इसके बाद पुलिस ने अंदेशा जताया था कि ये धार्मिक चरमपंथियों की कार्रवाई हो सकती है.

कराची पाकिस्तान का सबसे बड़ा शहर है और उसे देश की व्यावसायिक राजधानी भी कहा जाता है.

लेकिन कई साल से ये शहर हिंसा से ग्रस्त है, वहां न सिर्फ भाषाई आधार बने गुटों की हिंसक झड़पें होती रही हैं, बल्कि तालिबान चरमपंथी भी सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा रहे हैं.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार