यमन में जेल पर हमला, सात पुलिसकर्मी मारे गए

  • 14 फरवरी 2014
यमन कारागार पर हमला Image copyright

यमन की राजधानी सना के मुख्य कारागार में बंदूकधारियों के घातक हमले में सात पुलिसकर्मी मारे गए हैं.

राष्ट्रीय न्यूज एजेंसी के अनुसार गुरुवार को हुई इस जबरदस्त मुठभेड़ में तीन चरमपंथी भी मारे गए हैं.

बताया जा रहा है हमले के बाद बहुत से कैदी भाग निकलने में सफल रहे.

किसी भी संगठन ने अभी हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन यमन में अल कायदाकी अगुवाई में विद्रोह चल रहा है.

अल कायदा की यमनशाखा इस संगठन की दुनिया की सबसे सक्रिय शाखा है.

हमला

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जेल के पास जबरदस्त धमाके की आवाज़ सुनी गई. माना जा रहा है कि विद्रोहियों ने हमले के दौरान कार बम का इस्तेमाल किया.

ये जेल एयरपोर्ट की ओर जाने वाली मुख्य सड़क पर है, जो इस मुठभेड़ के चलते बंद कर दी गई थी.

बीबीसी संवाददाताओं का कहना है कि वर्ष 2012 में पूर्व राष्ट्रपति अली अब्दुल्ला सालेह के बाद से सत्ता में जो रिक्तता आई है, उससे अल कायदा लगातार बढ़त लेने में लगा है.

दिसंबर में चरमपंथियों ने राजधानी में रक्षा मंत्रालय पर हमला कर दिया था, जिसमें 50 लोगों की जान गई थी जबकि 160 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे.

विदेशी नागरिकों को अगवा किए जाने की घटना भी बढ़ रही है.

बुधवार को एक ब्रिटिश नागरिक का अज्ञात संगठन ने अपहरण कर लिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार