भांग बेचकर आ रहा पैसा, बैंक रखने को तैयार नहीं

इमेज कॉपीरइट AP

अमरीका के कोलोराडो में शौकिया रूप से भांग का सेवन करना एक जनवरी से गैर-क़ानूनी नहीं रहा. इसके कानूनी होने से भांग बेचने वालों के लिए एक नई मुसीबत खड़ी हो गई है.

हर दिन भांग विक्रेताओं के लिए नकदी डॉलर संभालना एक मुश्किल काम हो गया है इसलिए कोलोराडो में एक भांग दुकान के मालिक क्लग ने अपने कर्मचारियों को हथियारों से लैस किया है.

वह हर दिन कोई बैंक खोजने में असमर्थ है जो हजारों डॉलर उनसे स्वीकार करें.

क्लग कहते हैं, "यहां तक कि बख्तरबंद कारों को हमारे साथ व्यापार करने के लिए मना किया गया है."

अधिकतर बैंकिंग संस्थाएं संघीय कानूनों द्वारा नियंत्रित होते हैं जिनके लिए अभी भी तकनीकी रूप से अवैध भांग की खेती और बिक्री में लगी कंपनियों से पैसे लेना अपराध है.

ओबामा प्रशासन ने हाल ही में अभी पिछले सप्ताह नई मार्गदर्शन जारी करते हए स्पष्ट किया कि कोलोराडो फर्मों के साथ व्यापार करने से बैंकों के खिलाफ किसी भी तरह का मामला नहीं चलेगा. लेकिन फिर भी बैंक अपनी जगह कायम है.

संसद में क़ानून

कोलोराडो बैंकर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉन चाइलडियर्स कहते हैं, "संसद में क़ानून बनाना ही इस समस्या को हल करने का एकमात्र तरीका है."

वह बैंकों को अभी भी सलाह दे रहे हैं कि आरोपों के डर से बचने के लिए भांग के व्यापार से आने वाले नकद को लेने से मना कर दें.

इमेज कॉपीरइट Reuters

शौकिया तौर पर भांग के सेवन को इस साल की शुरुआत में कानूनी जामा पहनाया गया है लेकिन इलाज के मकसद से इस्तेमाल होने वाला भांग एक दशक से क़ानूनी है.

इस तरह के भांग के व्यापारी क़ानूनी तौर पर बैंकों के साथ लेन देन करते हैं. इसी में से एक है सिम्पल प्योर फर्म.

वांडा जेम्स ने अपने पति स्कॉट दुर्राह के साथ 2010 में इस फ़र्म की स्थापना की थी. उन्होंने कहा, "बाकी सब जब चॉकलेट और कुकीज़ पर ध्यान केंद्रित कर रहे थे तो हम एक कदम आगे बढ़ते हुए भांग की सॉस, हरी मिर्च, मैंगो सालसा, मूंगफली का मक्खन के व्यापार पर ध्यान दिया. क्या आप एक हफ़्ते में वास्तव में केवल इतने सारे चॉकलेट खा सकते हैं."

एक साल के भीतर वे अमरीका में 400 से अधिक व्यवसायियों के साथ व्यापार कर रहे थे.

लेकिन 2012 में उनके व्यवसाय में उस वक्त रूकावट आई जब वेल्स फारगो ने उनके बैंक खाते को निलंबित कर दिया. महीनों बाद वे फ़र्म बंद करने के लिए मजबूर हो गए.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption अमरीका में भांग उद्योग एक तेजी से बढ़ता कारोबार है.

चाईलडियर्स ने उल्लेख किया है कि एक वक्त ऐसा भी था जब ऐसा माहौल था कि कुछ बैंक भांग के फ़र्म के साथ व्यापार करते थे कोई इस पर इतना ध्यान नहीं देता था लेकिन जब से न्याय मंत्रालय ने इसे क़ानूनी बनाया है हर कोई ध्यान देने लगा है.

उन्होंने कहा, "मैं सोचता हूं कि इससे अंततः यह परिणाम निकला कि अधिकतर लोग यह सोचने लगे कि बैंक की इस व्यवसाय में भागीदारी नहीं हो सकती."

ऐसा लगता है कि ओबामा प्रशासन ने बैंकों को इस संदर्भ में उचित रूप से सहायता देने की कोशिश की है. न्याय विभाग ने पिछले दो साल में बैंकों और भांग के व्यापार के संदर्भ में चार विभिन्न पदों की नियुक्ति की है.

हज़ारों डॉलर का व्यवसाय

चाईलडियर्स कहते हैं, "हमे अधिक से अधिक स्थायित्व की जरूरत है. हमे यह समझने की जरूरत है कि यह लंबे वक्त तक चलेगा."

परेशानी यह कि कार्यकारी शाखा जिसे ओबामा नियंत्रित करते हैं वो बैंकिंग कानूनों और नियमों को नियंत्रित नहीं करती है.

अनुमान के मुताबिक अमरीका में भांग उद्योग एक तेजी से बढ़ता कारोबार है, जबकि इसके बावजूद इसका व्यापार अभी तक केवल एक साल में 100 करोड़ का ही है.

दवा कंपनी मैन डेनवर कोलोराडो क्षेत्र में सबसे बड़े भांग की व्यवसायियों में से एक है. उनका गोदाम 20,000 वर्ग फुट (1,850 वर्ग मीटर) में फैला हुआ है.

इसके अंदर सुरक्षा गार्ड ग्राहकों का स्वागत करते हुए सबसे पहले पूछता है आपको भांग "इलाज़ के लिए या शौक के लिए चाहिए?" उसके बाद 21 से अधिक की उम्र के सबूत के रूप में आईडी की मांग करता है.

हाल ही में एक गुरुवार को भोजन अवकाश के वक्त खरीदारों की नौ लाइनें लगी थी जिसमें मध्यम आयु वर्ग के जोड़े, टेक्सास से पर्यटक और अन्य जरूरतमंद और ग़ैर- जरूरतमंद शामिल थे.

प्रत्येक दिन यह फ़र्म हज़ारों डॉलर का व्यवसाय करता है.

थोड़े वक्त के लिए वे बैंकिंग समर्थन छोड़ने के लिए मजबूर हो गए थे. वे यहां मौज़ूद कई कंपनियों में से एक हैं जो चुपचाप एक स्थानीय बैंक के साथ समझौते कर काम कर रहे हैं.

लेकिन यह अभी भी आदर्श स्थिति नहीं है. बैंक ऋण प्रदान नहीं करते हैं.

सदन के एक मत नहीं होने और बैंकों के नकारात्मक रवैय से लगता है कि कोलोराडो में भांग का उद्योग आने वाले वक्त में निराशा में डूबा रहेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार