पाकिस्तान: तालिबान का एक महीने का संघर्षविराम

इमेज कॉपीरइट AP

प्रतिबंधित चरमपंथी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ने एक महीने के लिए संघर्ष विराम की घोषणा की है.

मीडिया को जारी एक बयान में संगठन ने कहा कि वो उलेमाओं की अपील, तालिबान की समिति के सम्मान और इस्लाम और देश हित में एक महीने के लिए संघर्ष विराम की घोषणा करते हैं.

तालिबान ने अपने सभी सदस्यों को आदेश दिया है कि वे एक महीने के लिए जेहादी कार्रवाइयां रोक दें.

जेहादी कार्रवाईयां

पाकिस्तानी तालिबान के प्रवक्ता शाहिदुल्लाह शाहिद ने कहा कि तालिबान शनिवार से संघर्ष विराम शुरू कर देगा. उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सरकार को तालिबान की माँगों को पूरा करना चाहिए. हाल ही में पाकिस्तानी सरकार और तालिबान के बीच शांतिवार्ता के प्रयास बीच में ही रुक गए थे.

प्रवक्ता ने मीडिया को जारी किए गए बयान में कहा है कि तालिबान ने नेक उद्देश्य और गंभीरता से वार्ता शुरू की है .

प्रवक्ता ने उम्मीद जताई है कि सरकार इस फैसले पर गंभीरता से विचार करेगी और वार्ता प्रक्रिया में सकारात्मक प्रगति करेगी.

असमतुल्लाह शाहीन की मौत

कुछ दिन पहले ही पाकिस्तान के क़बाइली इलाक़े उत्तरी वजीरिस्तान में एक गाड़ी पर फ़ायरिंग की घटना में एक अहम तालिबान कमांडर असमतुल्लाह शाहीन की तीन साथियों समेत मौत हो गई थी.

असमतउल्लाह शाहीन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के अहम कमांडर थे. तहरीक के पूर्व प्रमुख हकीमुल्लाह महसूद की मौत के बाद असमतउल्लाह शाहीन को नया प्रमुख चुने किए जाने तक कार्यवाहक प्रमुख नियुक्त किया गया था.

असमतुल्लाह शाहीन तहरीक-ए-तालिबान के पूर्व प्रमुख बैतुल्लाह महसूद के दौर में उन के अहम सहयोगी के तौर पर काम करते रहे थे.

प्रवक्ता ने उम्मीद जताई है कि सरकार इस फैसले पर गंभीरता से विचार करेगी और वार्ता प्रक्रिया में सकारात्मक प्रगति करेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार