कंडोम में छेद करने वाला प्रेमी यौन हिंसा का दोषी

  • 10 मार्च 2014
कंडोम इमेज कॉपीरइट Niall CarsonPA Wire

कनाडा के सुप्रीम कोर्ट ने प्रेमिका के साथ सेक्स करते समय छेद वाला कंडोम पहनने वाले एक व्यक्ति को यौन हमले का दोषी क़रार देने के निचली अदालत के फ़ैसले को सही ठहराया है.

अभियोजन पक्ष का कहना है कि क्रेग हचिनसन ने कंडोम में सुराख किए थे ताकि वह अपनी प्रेमिका को गर्भवती बनाकर उसे अपने साथ रहने के लिए मजबूर कर सके.

हचिनसन ने दलील दी थी कि प्रेमिका के साथ की गई उसकी यह दग़ाबाज़ी उसके साथ सहमति से संभोग का उल्लंघन नहीं है.

उसे डेढ़ साल तक की सज़ा हो सकती है और उसे यौन अपराधी के रूप में पंजीकृत किया जाएगा.

हाई कोर्ट ने शुक्रवार को अपने फ़ैसले में कहा, "किसी महिला को यह फ़ैसला करने का अधिकार है कि सहमति से संभोग के दौरान उसे कैसे छुआ जाए और उसके साथ किस तरह से सेक्स किया जाए.''

अदालत ने कहा, ''शिकायतकर्ता के साथी ने जानबूझकर धोखाधड़ी की, उसने उस तरह से संभोग नहीं किया जिसके लिए वह सहमत थी.''

रिश्ते पर संदेह

अदालती दस्तावेज़ों के मुताबिक़ 43 साल के हचिनसन ने साल 2006 की गर्मियों में उस समय कंडोम में छेद करने शुरू किए थे, जब उनकी प्रेमिका ने एक महीने पुराने अपने रिश्ते पर संदेह जताया था.

उन्हें इस धोखाधड़ी का पता उस समय चला जब वह गर्भवती हो गईं और उनके प्रेमी ने एसएमएस के ज़रिए यह स्वीकार किया कि उसने क्या किया है.

अदालत ने महिला की पहचान सार्वजनिक नहीं की है. गर्भवती होने के बाद इस महिला ने गर्भपात करवाया और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.

हचिनसन पर जुलाई 2007 में यौन अपराध का आरोप लगाया गया था.

निचली अदालत ने हचिनसन को इस मामले से बरी कर दिया था. लेकिन अभियोजकों ने इसके ख़िलाफ़ अपील की. दूसरी सुनवाई में उन्हें दोषी पाया गया. हचिनसन ने इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ अपील की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार