नाइजीरिया के मैदुगुरी शहर पर हमला

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

उत्तरी नाइजीरिया के मैदुगुरी शहर पर सैकड़ों की संख्या में चरमपंथियों ने हमला कर दिया है. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार कई घरों को आग लगा दिया गया है.

ख़बरों के अनुसार शहर पर कई दिशाओं से हमला हुआ है. हमलावर छोटे छोटे गुटों में आए और शहर में प्रवेश करने के बाद यूनिवर्सिटी, सेना की बैरकों और उन इलाक़ों में गए जहां सरकारी अधिकारी रहते हैं.

एक व्यक्ति ने स्थानीय अख़बार से कहा, ''उन लोगों ने कई घरों को आग लगा दी और कई मासूमों को मार डाला.''

ऐसा संदेह है कि ये चरमपंथी बोको हराम के है जो इस साल अब तक 500 लोगों को मार चुके हैं.

स्थानीय निवासियों का कहना है कि गिवा बैरकों के पास चरमपंथियों और सैनिकों के बीच जमकर गोलीबारी हुई है.

भोर में हुए इस हमले के बाद एयर फ़ोर्स के विमानों को भी आसमान में उड़ते हुए देखा गया.

स्थानीय निवासी हामिसू मूसा ने डेली ट्रस्ट अख़बार से कहा, ''गहरा धुआं उठ रहा था. हमलावर गिवा बैरक पर बम फेंक रहे थे और बड़ी संख्या में सैनिक बैरकों के अंदर से गोलियां चला रहे थे.''

बोको हराम के कई संदिग्ध चरमपंथियों को गिवा बैरक में रखा गया था. मानवाधिकार संगठनों का कहना है कि सैकड़ों चरमपंथी गिवा बैरकों में टार्चर का शिकार हुए हैं और मारे गए हैं.

हालांकि सेना इन आरोपों का खंडन करती रही है.

स्थानीय लोगों का कहना है कि मैदुगुरी यूनिवर्सिटी के पास कम से कम एक धमाका हुआ है. अभी ये साफ नहीं है कि ये धमाका अपने आप हुआ है या फिर ये धमाका बोको हराम ने किया है या फिर वायु सेना के हमले में ये धमाका हुआ है.

बीबीसी के नाइजीरिया संवाददाता का कहना है कि बोको हराम के चरमपंथी अक्सर रात के समय हमला करते हैं लेकिन अगर ये हमला बोको हराम का है तो ये उनके बढ़ते हिम्मत का संकेत है.

नाइजीरिया के ऊत्तर पूर्वी इलाक़ों में आपातकाल लागू है लेकिन इसके बावजूद पिछले कुछ हफ्तों में इस तरह के हमले बढ़े हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार