ख़ुद को आग लगाने वाली पाकिस्तानी लड़की की मौत

इमेज कॉपीरइट Reuters

पाकिस्तान में बलात्कार के प्रयास के मामले की ठीक से जाँच न करने का आरोप लगाते हुए गुरुवार को एक थाने के सामने ख़ुद को आग लगा लेने वाली लड़की की शुक्रवार को मौत हो गई.

अमीना ने गुरुवार को दक्षिणी पंजाब के मुज़फ़्फ़रगढ़ ज़िले में एक पुलिस थाने के सामने ख़ुद को आग लगा ली थी.

18 साल की अमीना बीबी ने उस समय ख़ुद को आग लगा ली जब उसका कथित तौर पर बलात्कार करने की कोशिश करने वाले लोगों के ख़िलाफ़ आरोप वापस ले लिए गए.

अमीना के अनुसार शिकायत करने के बाद उनके शिकायत पर ठीक से जांच नहीं की गई. अमीना ने शिकायत की थी कि जनवरी महीने में जब वो अपने कॉलेज जा रही थीं तो कई लोगों ने मिलकर उनका बलात्कार करने की कोशिशश की थी.

अमीना ने दक्षिणी पंजाब के मुज़फ़्फ़रगढ़ ज़िले में एक पुलिस थाने के सामने ख़ुद को आग लगा ली थी.

अधिकारियों पर आरोप

अधिकारियों का कहना है कि अमीना बीबी ने अधिकारियों पर ठीक से जांच नहीं करने के आरोप लगाए थे.

पुलिस ने अभियुक्तों के ख़िलाफ़ यह कहते हुए आरोप हटा लिए थे कि मामले में पर्याप्त सबूत नहीं हैं.

पाकिस्तान में संवाददाताओं का कहना है कि पाकिस्तान में बलात्कार या यौन हिंसा का शिकार हुई महिलाओं की ओर से इस तरह का क़दम उठाया जाना आश्चर्यजनक है.

पाकिस्तान के मानवाधिकार कार्यकर्ता रशीद रहमान ने बताया कि अमीना बीबी का बलात्कार नहीं हुआ था बल्कि तीन अभियुक्तों ने ऐसी कोशिश की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार