पेरिस में कारों पर क्यों लगा ब्रेक?

पेरिस प्रदूषण इमेज कॉपीरइट AFP

फ़्रांस की राजधानी पेरिस में प्रदूषण के ख़तरनाक स्तर को कम करने के लिए निजी वाहनों के उपयोग को सीमित किया जा रहा है.

इसके तहत कार के दैनिक प्रयोग के बजाय एक दिन छोड़कर उसके उपयोग की इजाज़त होगी.

यह योजना सोमवार से लागू होगी. साल 1997 के बाद यह दूसरा मौक़ा है जब इस तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं.

फ़्रांसीसी सरकार को ऐसा फ़ैसला तब करना पड़ा जब राजधानी पेरिस और उस के आसपास के इलाक़ों में लगातार पांच दिनों तक प्रदूषण का स्तर सामान्य से ख़तरनाक स्तर तक रहा.

मुफ़्त सवारी

इस प्रतिबंध के दायरे में मोटरसाइकिलें भी आएंगी. मोटरसाइकिलों को उनके नंबर के आखिरी अंक के आधार पर उन्हें सड़क पर आने का दिन तय किया जाएगा. जिन मोटरसाइकिलों का अंतिम नंबर सम होगा उन्हें एक दिन और जिनका आखिरी नंबर विषम होगा उन्हें उसके अगले दिन सड़क पर आने की इजाज़ रहेगी.

इस फ़ैसले का पालन सोमवार को स्थानीय समय के अनुसार सुबह साढ़े पांच बजे से शुरू हो जाएगा.

शुक्रवार को सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को तीन दिनों के लिए मुफ़्त कर दिया गया है ताकि लोगों को उनके प्रयोग के लिए प्रोत्साहन मिल सके और वे अपनी मोटर कारें घर पर ही छोड़े दें.

सरकार की ओर से मुफ़्त सवारी की यह सुविधा सोमवार तक जारी रहेगी.

सबसे ख़राब स्तर

इमेज कॉपीरइट AFP

विशेषज्ञों का कहना है कि शहर पर छाई धुंध मोटर गाड़ियों ने निकलने वाले धुएं एवं सर्द रातों और गर्म दिन के मिश्रण का परिणाम हैं और इसी कारण इन्हें छंटने का मौक़ा नहीं मिल रहा है.

फ़्रांस की पर्यावरण एजेंसी का कहना है कि अभी तक के रिकॉर्ड के अनुसार शहर की हवा की गुणवत्ता सबसे ख़राब स्तर पर है और यह चीन की राजधानी बीजिंग से टक्कर ले रहा है.

बीजिंग का दुनिया के सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में शुमार होता है.

शुक्रवार को प्रदूषण स्तर 180 माइक्रोग्राम दर्ज किया गया जो कि सुरक्षित स्तर 80 माइक्रोग्राम से दोगुने से भी अधिक है.

सरकार सोमवार को फिर से प्रदूषण के स्तर की जांच करेगी ताकि यह निर्णय ले सके कि इस प्रतिबंध को और कितना बढ़ाया जा सकता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार