गोरा बनाने वाली क्रीम का मज़ाकिया विज्ञापन हिट

skin_lightening_vedio इमेज कॉपीरइट CULTURE MACHINE

बीबीसी ट्रेडिंग की टीम दुनिया भर में सोशल मीडिया पर चर्चा में बनी हुई कहानियों पर निगाह रखती है. यहां आपके लिए पेश हैं ऐसे ही कुछ रुझानों की एक झलक.

गोरेपन की चाहत का मज़ाक

भारत में ऐसे कई उत्पाद हैं, जो त्वचा की रंगत निखारने का दावा करते हैं. आमतौर पर गोरेपन की क्रीम के नाम से प्रसिद्ध इन उत्पादों का बाज़ार काफ़ी बड़ा है.

लेकिन भारत के एक कामेडियन वरुण ठाकुर और कल्चर मशीन नाम की एक कंपनी ने मिलकर एक मज़ाकिया विज्ञापन बनाया है, जिसमें पुरुषों के गुप्तांगों को गोरा बनाने का दावा किया गया है.

ये विज्ञापन गोरेपन की क्रीम को लेकर भारत में फैले जुनून का मज़ाक उड़ाता है. इस वीडियो को क़रीब ढाई लाख बार देखा जा चुका है.

अनोखी पुलिसगिरी!

इमेज कॉपीरइट GREATER MANCHESTER POLICE

ब्रिटेन में बीते दिनों अपराध से लड़ने के लिए पुलिस का 'सामाजिक' नज़रिया देखने को मिला. दरअसल ग्रेटर मैनचेस्टर पुलिस ने ड्रग्स की तलाश में एक घर पर छापा डाला.

इस दौरान पुलिस को घर पर कोई नहीं मिला. हालांकि लेकिन उन्हें छापे के दौरान भांग के 72 पौधे मिले.

ऐसे में उन्होंने वहां एक चिट्ठी छोड़ दी और उसे ट्विटर पर पोस्ट कर दिया. इसमें लिखा था, "हमें बातचीत करने की ज़रूरत है. दुर्भाग्य से आप घर में नहीं थे और अब यहां भांग का एक भी पौधा नहीं बचा है."

यह पता नहीं चल पाया है कि क्या कोई पुलिस से मिलने गया पर इस ट्वीट को क़रीब 2000 बार रिट्वीट किया गया.

पवित्र पानी?

इमेज कॉपीरइट SOCIAL MEDIA

किसी राजनीतिक नेता के पैर को जिस पानी से धोया गया हो, क्या उस पानी में आध्यात्मिक गुण आ जाते हैं?

इंडोनेशिया में एक तस्वीर के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद यह बहस ज़ोर पकड़ चुकी है.

इसमें एक व्यक्ति चिलमची से जिस पानी को पी रहा है, उसका इस्तेमाल इंडोनेशिया की पूर्व राष्ट्रपति और विपक्ष की नेता मेघावती सुकर्णोपुत्री के पैर धोने के लिए किया गया था.

कई लोगों ने इस बर्ताव से अपनी असहमति जताई है और इसे "घिनौना" बताया है.

इस तस्वीर में दिख रहे व्यक्ति ने स्थानीय मीडिया को बताया कि वो मेघावती सुकर्णोपुत्री के पैर धोना चाहता था और उसका सपना पूरा हो गया है.

'मॉडल मम्मी'

मिस्र में इस समय चर्चा चल रही है कि क्या मिस्र की जानी-मानी बैले डांसर को ' मॉडल मदर' का ख़िताब दे देना चाहिए.

हालांकि मिस्र बैले डांस के लिए प्रसिद्ध है, पर मिस्र के कई लोग सार्वजनिक रूप से बैले डांस करने को सही नहीं मानते.

इस बैले डांसर का नाम फ़ीफ़ी अब्दु है और यह नाम मिस्र में ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार