10 बातें जो पिछले हफ़्ते तक हमें नहीं पता थीं

  • 25 मार्च 2014
इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

1. कान के मैल से प्रदूषण का स्तर मापा जा सकता है.

(विस्तृत जानकारी के लिए देखें)

2. क्लारिसा डिक्सन राइट का पूरा नाम था क्लारिसा थेरेसा फिलोमिना एलीन मैरी जोसेफ़ीन ऐजेंस इल्सि ट्रेलबाय लुसी इस्मेराल्डा डिक्सन राइट.

(ज़्यादा जानकारी के लिए डेली टेलीग्राफ़ देखें)

3. नारवाल व्हेल अपने लंबे दांत का इस्तेमाल प्रेमालाप के लिए करती हैं और ये बेहद संवेदनशील होते हैं.

(ज़्यादा जानकारी के लिए पढ़ें)

4. ब्रिटेन के युवा मीडिया कारोबारी और इंडिपेंडेंट तथा इवनिंग स्टैंडर्ड के मालिक एव्गेनी लेबेदेव ने अपने दफ़्तर में क़रीब 500 इत्र का संग्रह कर रखा है.

(ज़्यादा जानकारी के लिए गार्ज़ियन की रिपोर्ट देखें)

5. अनजाने में कोयल के अंडों को सेने वाले कौओं के जीवित रहने की संभावना बेहतर हो जाती है.

(पूरी ख़बर द टाइम्स में देखें)

6. इंग्लिश बीयर और शराब बनाने वाली कंपनी गिनेस 1982 में अपनी रिलॉन्चिंग को बंद करने के फ़ैसले तक पहुंच गई थी.

(ज़्यादा जानकारी के लिए पढ़ें)

7. अमूमन कहा जाता है कि इंसानी नाक दस हज़ार तरह की सुगंध में अंतर पहचान लेती है, लेकिन यह ग़लत है. क्योंकि नाक ख़रब से भी ज़्यादा तरह की सुगंधों की पहचान रखती है.

(ज़्यादा जानकारी के लिए देखें)

8. ब्रिटेन में नौकरी करने वालों में सबसे ज़्यादा संतुष्ट पादरी हैं या फिर पुजारी.

(ज़्यादा जानकारी के लिए देखें)

9. इस सप्ताह के पहले ब्रिटेन में ग्रे रंग की गिलहरी देखने के बाद उसे रिपोर्ट नहीं करना अपराध के दायरे में आता था.

( पूरी रिपोर्ट पढ़ें)

10. डार्क चॉकलेट को पेट के अच्छे जीवाणु तोड़कर ऐसे अवयवों में बदल देते हैं, जो दिल के लिए अच्छे होते हैं.

(ज़्यादा जानकारी के लिए पढ़ें)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार