विमान की खोज का दायरा बढ़ा, चीन-जापान के विमान जुटे

मलेशिया के लापता विमान की तलाश इमेज कॉपीरइट Getty

मलेशिया के लापता विमान को दक्षिण हिंद महासागर में खोजने के अभियान में आज से क़रीब 70 हज़ार वर्ग किलोमीटर का वह इलाक़ा शामिल किया गया है, जहां से विमान के गुज़रने की संभावना नहीं थी.

सोमवार से चीन और जापान दोनों मिलकर खोज शुरू कर रहे हैं. 10 विमान इस खोज अभियान में शामिल हो रहे हैं.

उपग्रह से मिली तस्वीरों में दक्षिण हिंद महासागर में कुछ मलबा दिखाई दिया है, जो लापता विमान से जुड़ा हो सकता है.

लेकिन इस दौरान मौसम और ख़राब होने की आशंका है.

इस बीच ऑस्ट्रेलिया के उप प्रधानमंत्री वारेन ट्रस ने कहा है कि खोजी दल हर नई सूचना को गंभीरता से ले रहा है.

वारेन ट्रस ने कहा, "जहां मलबा दिखाई दिया है, खोज अभियान में वहां सबसे ज़्यादा ज़ोर दिया जा रहा है. फ़्रांस ने भी कुछ नया मलबा देखा है. यह इलाक़ा उस जगह से 850 किलोमीटर उत्तर में है, जहां इस वक़्त खोज अभियान चल रहा है."

उन्होंने कहा, "हालांकि यह वह इलाक़ा नहीं है, जहां से विमान के गुजरने की संभावना है. फिर भी हम हर सूचना को गंभीरता से ले रहे हैं."

नई तस्वीरें

मलेशिया का कहना है कि फ़्रांस ने उसे लापता विमान के 'संभावित मलबे' की नर्ई तस्वीरें भेजी हैं. ये तस्वीरें उपग्रह से खींची गई हैं.

कई देशों के विमान और जहाज़ इस लापता विमान की तलाश में जुटे हैं.

ऑस्ट्रेलिया इस तलाशी अभियान के लिए विभिन्न देशों के साथ तालमेल बैठा रहा है.

ऑस्ट्रेलिया के सामुद्रिक सुरक्षा प्राधिकरण के माइक बार्टन ने कहा है कि उनके दल के एक सदस्य को लकड़ी के पटरे जैसा कुछ तैरता हुआ दिखाई दिया है.

संभावित मलबा

उन्होंने बताया, "लकड़ी के एक पटरे जैसी कुछ अन्य चीज़ें नज़र आई हैं. इनके आसपास कुछ बेल्ट नज़र आए हैं, जो अलग-अलग रंग और अलग-अलग लंबाई के हैं. इनका संबंध किसी विमान से हो सकता है. यह एक संभावित सुराग है, लेकिन इसकी पुष्टि करनी होगी क्योंकि इस तरह के पटरों का इस्तेमाल पानी के जहाज़ों में भी होता है."

इमेज कॉपीरइट AP

हिंद महासागर के दक्षिण हिस्से में मलेशियाई विमान के संभावित मलबे की ये तीसरी तस्वीरें हैं.

मलेशियन एयरलाइंस की उड़ान संख्या एमएच-370 का विमान पिछले आठ मार्च को कुआलालंपुर से बीजिंग जाते समय लापता हो गया था. इस विमान में 239 यात्री सवार थे. इनमें सर्वाधिक संख्या चीन के यात्रियों की है.

इमेज कॉपीरइट AFP

मलेशियाई अधिकारियों का मानना है कि विमान को जानबूझकर रास्ते से मोड़ा गया था.

हिंद महासागर में तलाश

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

उपग्रह से मिली जानकारी के मुताबिक़ लापता विमान के मलबे की तलाश दो अलग-अलग हवाई रास्तों पर मलक्का की खाड़ी के पश्चिमोत्तर से लेकर दक्षिण-पश्चिम तक की जा रही है.

हालांकि पूर्वोत्तर हवाई रास्ते पर मौजूद किसी देश ने लापता विमान से किसी तरह के राडार संपर्क से इनकार किया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

दक्षिणी हिंद महासागर में मिले संभावित मलबे की तस्वीरों के बाद इस क्षेत्र में खोज अभियान केंद्रित हो गया है.

मलेशिया के परिवहन मंत्रालय की तरफ़ से फ़ेसबुक पर जारी एक वक्तव्य में कहा गया, "इस सुबह मलेशिया को फ़्रांसीसी अधिकारियों की तरफ़ से दक्षिणी क्षेत्र से उपग्रह से खींची गई नई तस्वीरें भेजी गई हैं, जिनका संबंध लापता विमान से हो सकता है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार