लापता विमान के परिजनों ने मांगे दुर्घटना के ठोस सबूत

  • 26 मार्च 2014
लापता विमान में सवार यात्रियों के परिजन Image copyright Getty

बीजिंग में तक़रीबन 300 परिवार बुधवार को मलेशियाई वरिष्ठ प्रतिनिधि मंडल के संग बैठक कर रहे हैं.

चीनी अधिकारियों ने स्थिति की गंभीरता और संवेदनशीलता को समझते हुए सुरक्षा व्यवस्था कर रखी है.

परिवार वाले विमान के अधिकारियों से तल्ख और कई बार अपमानजनक सवाल पूछ रहे थे. लापता विमान के सिग्नल के बारे में जटिल तकनीकी जानकारी के विश्लेषण से वो लोग संतुष्ट नज़र आ रहे थे.

विमान में सवार कई यात्रियों के रिश्तेदार कह रहे थे कि वो लोग इस बात का भौतिक सबूत चाहते हैं कि विमान में सवार लोगों की मौत हो चुकी है. सवाल-जवाब के दौरान कई बार कहासुनी भी हो गई.

एयरलाइन ने बताया कि पीड़ित परिवारों की देखरेख करने के लिए 700 कर्मचारी उपलब्ध हैं. यानी हर परिवार के लिए दो देखरेख कर्मी मौजूद है.

नए टुकड़े

लेकिन मलेशिया के राजदूत को यह स्वीकार करना पड़ा कि यह वैश्विक आंकड़ा है. बीजिंग में पीड़ित परिवारों को भावानात्मक और व्यावहारिक मदद देने के लिए फ़िलहाल केवल 50 ऐसे देखरेख कर्मी मौजूद हैं. जबिक इन परिवारों की इस तरह की मदद की सख़्त ज़रूरत है.

इससे पहले दिन में कुछ इस तरह के मलबे देखे जाने की ख़बर आई जिससे इस बात की संभावना हुई के ये विमान के टुकड़े हो सकते हैं.

ये तस्वीरें फ्रांस के एक सैटलाइट के ज़रिये ली गई थीं. इस तरह के 122 टुकड़े समुद्र में तैरते पाए गए हैं.

मलेशिया एयरलाइंस का ये विमान कुआलालंपूर से बीजिंग उड़ान भर रहा था लेकिन उड़ान के घंटे भर बाद ही वो लापता हो गया.

चंद दिनों पहले ही मलेशिया के प्रधानमंत्री ने घोषणा की थी कि विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया है और उसमें सवार किसी भी यात्री के जीवित रहने की संभावना नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार