इंग्लैंडः नर्स पर तीन मरीज़ों की हत्या के आरोप तय

स्टेपिंग हिल हॉस्पिटल इमेज कॉपीरइट google

ब्रिटेन के 'स्टेपिंग हिल हॉस्पिटल' में 2011 में तीन मरीज़ों की हत्या के अभियुक्त पुरुष 'नर्स' को शनिवार को अदालत में पेश किया गया.

48 वर्षीय विक्टोरिनो छूआ पर मरीजों को गंभीर शारीरिक नुक़सान पहुंचाने और उन्हें ज़हर देने का प्रयास करने सहित 31 अन्य आरोप हैं.

'स्टेपिंग हिल हॉस्पिटल' में मरीज़ों की देखभाल करने वाले विक्टोरिनो छूआ को दो दिन की ज़मानत के बाद फिर से शुक्रवार सुबह गिरफ़्तार किया गया था.

छूआ पर जिन तीन मरीज़ों की हत्या का आरोप है उनमें 44 वर्षीय ट्रेसी आर्डन, 71 वर्षीय आरनोल्ड लैंस्टर, तथा 83 साल के अल्फ्रेड डेरेक का नाम शामिल है.

मैनचेस्टर की मजिस्ट्रेट कोर्ट में विक्टोरिनो छूआ ने अपने नाम, उम्र और पते की पुष्टि की है.

जांच-पड़ताल

इमेज कॉपीरइट
Image caption विक्टोरिनो छूआ पर गंभीर आरोप हैं

'स्टेपिंग हिल हॉस्पिटल' के नर्स विक्टोरिनो छूवा को पहली बार साल 2012 के जनवरी महीने में गिरफ़्तार किया गया था.

माना जाता है कि 2011 के जून और जुलाई में अस्पताल में चिकित्सा उत्पादों को दूषित कर दिए जाने से 22 लोगों में ज़हर फैल गया था.

इसके बाद जब अस्पताल ने पुलिस को बुलाया. तब जांच के दौरान उन्होंने पाया कि सेलिन ड्रॉप के साथ छेड़छाड़ की गई थी.

ग्रेटर मैनचेस्टर पुलिस ने कहा, "हम ने 2011 में 1 जून से 15 जुलाई तक चिकित्सा उत्पादों के संपर्क में आने के बाद होने वाले प्रभाव की पड़ताल की थी."

छूआ को सोमवार या मंगलवार को 'मैनचेस्टर क्राउन कोर्ट' में हाज़िर किया जाएगा. तब तक के लिए उन्हें हिरासत में भेज दिया गया है.

ज़मानत के लिए वे अगले कोर्ट में हाज़िर होने के बाद ही आवेदन कर सकेंगे. अभियोजन पक्ष के वकील का कहना है कि उनकी ये कोशिश रहेगी कि छूआ को ज़मानत ना मिले.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार