यूक्रेनः मेदवेदेव क्राईमिया के दौरे पर

रूसी प्रधानमंत्री, दिमित्रि मेदवेदेव इमेज कॉपीरइट AFP

रूसी प्रधानमंत्री दिमित्रि मेदवेदेव काईमिया पहुंच गए हैं. वह यूक्रेन से अलग होने के बाद क्राईमिया का दौरा करने वाले सबसे वरिष्ठ रूसी नेता हैं.

मेदवेदेव रूसी मंत्रियों के प्रतिनिधिमंडल के साथ क्राईमिया के मुख्य शहर सिम्फ़ेरोपोल का दौरा करेंगे.

रूसी प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया कि रूस की सरकार इस प्रायद्वीप के विकास पर चर्चा के लिए लोगों से मिल रही है.

रूसी मीडिया के मुताबिक़ वह प्रायद्वीप के सामाजिक-आर्थिक विकास पर होने वाली बैठक की अध्यक्षता करेंगे.

इसी महीने क्राईमिया को रूस में शामिल करने के फ़ैसले की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफ़ी आलोचना हुई थी.

इस बीच रविवार को रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लवारोफ़ और अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी के बीच चार घंटे चली 'खुली' बातचीत बिना किसी नतीजे पर पहुंचे समाप्त हो गई थी.

'लचीला संघीय ढांचा'

जॉन केरी ने पत्रकारों को बताया कि अमरीका अभी भी रूस के क्रीमिया पर नियंत्रण को "ग़ैरक़ानूनी और अवैधानिक" मानता है.

इमेज कॉपीरइट AP

उन्होंने कहा कि यूक्रेन के भविष्य पर कोई भी फ़ैसला कीएफ़ को शामिल किए बिना नहीं हो सकता है.

इससे पहले रूसी विदेश मंत्री लवारोफ़ ने यूक्रेन के संघीय ढांचे को थोड़ा लचीला करना चाहिए, लेकिन यूक्रेन इसे देश को विभाजित करने की कोशिश बताकर इसे ख़ारीज करता रहा है.

यूक्रेन के रूस समर्थक राष्ट्रपति के ख़िलाफ़ महीनों तक चले विरोध प्रदर्शनों के बाद उन्हें अपदस्थ करने पर रूस के क्राईमिया पर कब्ज़े के फ़ैसले से रूस और पश्चिमी देशों के संबंधों में खटास आ गई है.

अमरीका और यूरोपीय यूनियन ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन के नज़दीकी लोगों और अन्य अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा दिए हैं. इसके जवाब में रूस ने अमरीकी नेताओं पर प्रतिबंध लगाए हैं.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार