उत्तर और दक्षिण कोरिया में गोलाबारी

कोरिया, गोलीबारी इमेज कॉपीरइट AP

दक्षिण कोरिया और उत्तर कोरिया के बीच विवादित पश्चिमी सागर सीमा रेखा पर गोलाबारी हुई है. यह जानकारी दक्षिण कोरिया ने दी है.

उत्तर कोरिया ने सोमवार को कहा था कि वो इस लंबी सीमा रेखा पर सात चरणों में लाइव-फ़ायर ड्रील करेगा. इस तरह के सैन्य अभ्यास में बिल्कुल वास्तविक स्थितियों तरह गोलीबारी की जाती है.

दक्षिण कोरिया ने कहा है कि उसने तब गोलाबारी शुरू की जब उत्तर कोरिया के गोलाबारूद उसकी जल सीमा रेखा वाले इलाक़े में गिरे.

उत्तर कोरिया ने छोड़ी 'बैलिस्टिक' मिसाइलें

यह क्षेत्र दक्षिण और उत्तर कोरिया के बीच टकराव का बिंदु रहा है. कोरिया युद्ध के बाद संयुक्त राष्ट्र ने पश्चिमी सीमा रेखा निर्धारित की थी लेकिन उत्तर कोरिया इसे स्वीकार नहीं करता.

साल 2010 के अंत में दक्षिण कोरिया के चार जवान एक सीमावर्ती द्वीप पर उत्तरी कोरिया के सेना की गोलाबारी में मारे गए थे.

उत्तर कोरिया ने लाइव-फ़ायर अभ्यास की सूचना दक्षिण कोरिया की नौसेना को फ़ैक्स संदेश से दिया था.

इस संदेश में कहा गया है कि यह अभ्यास सात सीमावर्ती इलाक़ों में किया जाएगा.

जवाबी गोलीबारी

इमेज कॉपीरइट REUTERS
Image caption दक्षिण कोरिया के जलपोत के डूबने से मरे लोगों में से एक की परिजन

दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया को चेतावनी दी है कि अगर उत्तर कोरिया को कोई भी विस्फोटक दक्षिण कोरिया के इलाक़े में आया तो उसका तुरंत जवाब दिया जाएगा.

दक्षिण कोरिया के सैन्य प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी एएफपी से कहा, "उत्तर कोरिया के चलाए कुछ विस्फोटक हमारे इलाक़े में गिरे उसके बाद हमने जवाबी गोलीबारी की. कुछ देर तक दोनों पक्ष गोलीबारी करते रहे."

एएफपी की रिपोर्ट में कहा गया है कि सीमावर्ती इलाक़े के नागरिकों को वहाँ से हटा दिया गया है.

फिर मिलेंगे उत्तर और दक्षिण कोरियाई परिवार

नवंबर, 2010 में उत्तरी कोरिया ने सीमावर्ती द्वीप योओंगपियोंग में गोलीबारी की थी जिसमें दक्षिण कोरिया के दो नौसैनिक और दो आम नागरिक मारे गए थे.

तब उत्तर कोरिया ने कहा था कि वो दक्षिण कोरिया के सैन्य अभ्यास का जवाब दे रहा था.

इस साल की शुरुआत में एक दक्षिण कोरियाई जलपोत विवादित इलाक़े में डूब गया था. इस घटना में 46 लोग मारे गए थे.

दक्षिण कोरिया का कहना था कि यह जहाज उत्तर कोरिया ने डुबोया है लेकिन उत्तर कोरिया ने इससे इनकार किया.

जवाबी कार्रवाई

इमेज कॉपीरइट AP

कुछ दिन पहले उत्तर कोरिया ने मध्यम-दूरी की मिसाइल नोडोंग का समुद्र में परीक्षण किया. साल 2009 के बाद यह इस तरह का उत्तर कोरिया का पहला परीक्षण था.

पिछले हफ़्ते संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परीषद ने इसकी आलोचना की थी कहा था कि वो 'उचित जवाबी कार्रवाई' पर विचार कर रहा है.

को रियाः क्रूर तानाशाह या क़िस्सागोई के सुपरस्टार

इसके बाद दक्षिण कोरिया-अमरीका के ताज़ा संयुक्त सैन्य अभ्यास के दौरान कई छोटी-दूरी की मिसाइलों का परीक्षण किया गया.

इसे उत्तर कोरिया के परीक्षण के जवाब में की गई कार्रवाई माना गया. उत्तर कोरिया ने हाल ही में 'नए तरीके' परमाणु परीक्षण करने की धमकी दी है.

उत्तर कोरिया ने अब तक तीन परमाणु परीक्षण किए हैं. उसने ऐसा आख़िरी परीक्षण फ़रवरी, 2013 में किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार