लापता विमान की तलाश जारी रहेगीः मलेशिया

नजीब रज़्ज़ाक़ इमेज कॉपीरइट Reuters

मलेशिया के प्रधानमंत्री नजीब रज़्ज़ाक़ ने कहा है कि लापता विमान एमएच370 की तलाश के लिए चलाया जा रहा अभियान जारी रहेगा.

नजीब रज़्ज़ाक ऑस्ट्रेलिया के पर्थ में बनाए गए तलाशी अभियान केंद्र के दौरे पर हैं.

उन्होंने यह बयान संयुक्त प्रेस कांफ्रेस में ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री टोनी एबट के साथ दिया.

क्या अनसुलझी रह जाएगी लापता विमान की गुत्थी?

नजीब रज़्ज़ाक़ ने तलाशी अभियान की कोशिशों की तारीफ़ करते हुए कहा 'बड़ी त्रासदी' के समय मिलने वाला सहयोग "हमें दिली तसल्ली दे देता है. "

आठ मार्च को मलेशिया एयरलाइंस का विमान कुआलालंपुर से बीजिंग जाते समय ग़ायब हो गया था. इसमें कुल 239 लोग सवार थे.

मलेशिया ने विभिन्न देशों के उपग्रहों से मिली तस्वीरों के आधार पर कहा था कि विमान की आख़िरी मौजूदगी हिंद महासागर के दक्षिणी क्षेत्र में पाई गई थी.

इस क्षेत्र में विमान के संभावित मलबे की तलाश के लिए कई विमान और जहाज गश्त कर रहे हैं.

सरकार की आशंका

इमेज कॉपीरइट Reuters

मलेशिया सरकार ने आशंका जताई थी कि विमान दुर्घटनाग्रस्त हो चुका है और इसमें सवार सभी लोगों की मृत्यु हो चुकी है.

तलाशी का केन्द्र पर्थ के पश्चिम में 221,000 वर्ग किलोमीटर (85,000 वर्ग मील) क्षेत्र में 1,500 किलोमीटर (932 मील) की दूरी पर है.

लेकिन अभी तक इस विमान के मलबे का एक भी टुकड़ा नहीं मिला है.

लापता विमान को खोजना 'सबसे चुनौतीपूर्ण'

नजीब गुरुवार की सुबह पर्थ के पास खोजी विमानों के उड़ान से पहले पीयर्स रैफ बेस पर खोज टीम से मुलाकात की और इसके बाद एबट के साथ वार्ता की.

उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में कहा, "एमएच370 के लापता होने की घटना ने हमारे सामूहिक संकल्प की परीक्षा ली है ".

उन्होंने कहा, "बहुत कम सबूत के साथ इस तरह की खोज एक अत्यंत कठिन कार्य है, मलेशिया, अमेरिका, ब्रिटेन, चीन, ऑस्ट्रेलिया और फ्रांस के खोजकर्ताओं ने बिना ठहरे लगातार खोज अभियान जारी रखा है."

उन्होंने हाल के हफ़्तों में दोनों खोजी टीमों और ऑस्ट्रेलियाई सरकार के प्रयासों के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि खोज जारी रहेगी.

उन्होंने कहा, "मैं विमान में सवार लोगों के परिजनों से वादा कर सकता हूँ कि हम हार नहीं मानेंगे."

ब्लैक-बॉक्स की तलाश

इमेज कॉपीरइट Reuters

मलेशियाई अधिकारियों को विशेष रूप से विमान के 153 चीनी यात्रियों के रिश्तेदारों के द्वारा खोज के उनके प्रबंधन पर भारी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है.

गुरुवार को आठ सैन्य विमानों और नौ जलपोतों ने तलाशी अभियान में हिस्सा लिया.

लापता विमान: अंतिम शब्द थे 'गु़ड नाइट मलेशिया'

संयुक्त एजेंसी समन्वय केंद्र की ओर से कहा गया है कि मौसम के हालात 10 किलोमीटर (6 मील) की दृश्यता के साथ अच्छे हैं.

ब्रिटिश पनडुब्बी एचएमएस टायरलेस दक्षिणी हिंद महासागर में रॉयल नेवी जहाज एचएमएस इको के साथ मिलकर तलाशी अभियान में शामिल है.

ऑस्ट्रेलियाई नौसेना जहाज इस क्षेत्र में तलाशी अभियान का नेतृत्व कर रही है और विमान के 'ब्लैक-बॉक्स' को खोजने में जुटी है.

विशेषज्ञों का कहना है वक़्त की बड़ी अहमियत है क्योंकि ब्लैक-बॉक्स की बैट्री सात अप्रैल तक ही सिग्नल भेज सकती है.

संयुक्त एजेंसी समन्वय केंद्र के प्रमुख एयर चीफ मार्शल एंगस हॉस्टन ने चेतावनी दी है कि खोज अभियान में काफ़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार