एमएच370: खोज अभियान में जुटे जहाज़ को मिले सिग्नल

  • 5 अप्रैल 2014
डेटा रिकॉर्डर Image copyright Reuters

चीनी मीडिया के मुताबिक़ दक्षिणी हिंद महासागर में मलेशिया एयरलाइंस के लापता विमान की तलाश में जुटे चीन के एक जहाज़ को सिग्नल प्राप्त हुए हैं.

इस सिग्नल की फ्रीक्वेंसी 37.5 किलोहर्ट्ज प्रति सेकेंड है. विमान पर लगे डेटा रिकॉर्डर भी इसी फ्रीक्वेंसी का उत्सर्जन करते हैं.

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक़ खोज अभियान में जुटे चीन के दो पोतों में से एक हैशुन 01 को 25 डिग्री दक्षिणी अक्षांश और 101 डिग्री पूर्वी देशांतर के क़रीब सिग्नल प्राप्त हुए.

लेकिन एजेंसी ने कहा, "अभी यह तय नहीं है कि इसका लापता विमान से कुछ लेनादेना है या नहीं."

चीन के 'लिबरेशन डेली' के मुताबिक़ पोत में मौजूद तीन लोगों ने सिग्नल सुने थे लेकिन इसे रिकॉर्ड नहीं किया जा सका क्योंकि सबकुछ अचानक हुआ था.

खोज अभियान में दर्जनों जहाज़ों और विमानों को लगाया गया है. डेटा रिकॉर्डर की बैटरी केवल एक महीने तक ही सक्रिय रहती हैं.

डेटा रिकॉर्डर

मलेशिया एयरलाइंस की उड़ान संख्या एमएच-370 का विमान गत आठ मार्च को कुआलालंपुर से बीजिंग जाते समय लापता हो गया था.

विमान में चालक दल के सदस्यों समेत 239 यात्री सवार थे. माना जा रहा है कि यह विमान दक्षिणी हिंद महासागर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था.

लापता विमान के ब्लैक बॉक्स को पानी के भीतर खोजने का काम चल रहा है. इसके लिए दो पोतों को लगाया गया है जो पिंगर लोकेटर का इस्तेमाल कर डेटा रिकॉर्डर को खोजने में जुटे हैं.

ऑस्ट्रेलियाई नौसेना का पोत ओशियन शील्ड अमरीकी नौसेना के पिंगर लोकेटर का इस्तेमाल कर रहा है जबकि इसी तरह की सुविधाओं से युक्त एचएमएस इको भी खोज अभियान में लगा है.

विमान के ब्लैक बॉक्स में लगा पिंगर, उसमें लगी एक बैटरी से चलता है. यह हादसे के तीस दिन बाद अल्ट्रासोनिक ध्वनियों का उत्सर्जन बंद कर देता है.

ऐसे में खोजकर्ताओं के पास उसकी तलाश के लिए केवल कुछ दिन ही हैं.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार