इस्लामाबाद में धमाका, 20 की मौत, 50 घायल

इस्लामाबाद विस्फोट इमेज कॉपीरइट AP

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद के बाहरी इलाक़े के एक बाज़ार में हुए बम विस्फोट में कम से कम 20 लोग मारे गए हैं जबकि 100 लोग घायल हुए हैं.

पुलिस के अनुसार अधिक तीव्रता वाला यह बम धमाका बुधवार सुबह फल एवं सब्जी बाज़ार में हुआ.

पाकिस्तान में दो धमाके, 19 मौतें

पाकिस्तानी तालिबान के एक प्रवक्ता ने इसमें संलिप्तता से इन्कार किया है. किसी अन्य चरमपंथी समूह ने भी हमले की ज़िम्मेदारी नहीं ली है.

सरकार और पाकिस्तानी तालिबान के बीच फिलहाल संघर्ष विराम चल रहा है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने इस धमाके की निंदा की है. उन्होंने कहा कि यह देश को अस्थिर करने की कोशिश है लेकिन सरकार शांति के प्रयास जारी रखेगी.

यह विस्फोट ऐसे समय हुआ है जब एक दिन पहले ही बलूचिस्तान प्रांत में अलगाववादियों द्वारा किए गए एक बम विस्फोट में 13 लोग मारे गए थे.

घातक हमला

इमेज कॉपीरइट AFP

घटनास्थल पर मौजूद समाचार एजेंसी एएफपी के एक संवाददाता ने बताया कि विस्फोट से पांच फुट चौड़ा गड्ढा बन गया था जिसमें लोगों के क्षत विक्षत अंग पड़े हुए थे.

फल और सब्जी बाज़ार में ख़रीदारों और विक्रेताओं के इकट्ठे होने से सुबह का समय बेहद व्यस्त होता है.

स्थानीय संवाददाताओँ ने बताया कि विस्फोटकों को फल के डिब्बों में छिपाया गया था, हालांकि अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है.

बीबीसी संवाददाता माइक वुल्ड्रिग ने कहा कि यदि पिछले महीने कोर्ट परिसर में हमले की घटना को छोड़ दिया जाए तो हाल के समय में पाकिस्तानी राजधानी में अपेक्षाकृत शांति रही है.

उस हमले में 11 लोग मारे गए थे. पाकिस्तानी तालिबान से अलग हुए एक गुट ने इसकी ज़िम्मेदारी ली थी.

माइक के अनुसार, ताज़ा हमले में जितनी संख्या में लोग मारे गए हैं, उस देखते हुए कहा जा सकता है कि 2008 में राजधानी के मैरियट होटल में हुए हमले के बाद से यह सबसे बड़ा घातक हमला है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार