अमरीका के कंसास में गोलीबारी में तीन लोगों की मौत

कैनसास सिटी हमला इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीका की कंसास सिटी में यहूदी समुदाय से संबंधित एक स्थल और उसके पास एक वृद्धाश्रम में तीन लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई.

पुलिस ने इस मामले में क़रीब 70 वर्षीय एक संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लिया है.

स्थानीय मीडिया के मुताबिक़ गोलीबारी ओवरलैंड पार्क में यहूदी समुदाय के एक परिसर और उसके पास स्थित विलेज शेलोम के एक सहायता केंद्र पर हुई.

कंसास सिटी के यहूदी समुदाय केंद्र ने अपने फ़ेसबुक पेज पर कहा है कि यहूदी कम्युनिटी कैम्पस की कार पार्किंग में दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई है.

मृतकों की शिनाख्त डॉक्टर विलियम लुइस कॉर्पोरन और उनके 14 साल के पोते रीट ग्रीफ़िन अंडरवुड के रूप में हुई है. मरने वाले दोनों लोग ईसाई थे.

गोलीबारी में गंभीर रूप से घायल एक किशोर का स्थानीय अस्पताल में इलाज किया जा रहा था.

शॉटगन का इस्तेमाल

समुदाय केन्द्र से कुछ दूरी पर स्थित विलेज़ शालोम के वृद्धाश्रम में गोलीबारी में एक महिला की मौत हो गई.

स्थानीय टीवी चैनल पर प्रसारित फ़ुटेज में पुलिस को एक संदिग्ध को गिरफ़्तार करते हुए दिखाया गया है.

पुलिस कार के पीछे यह व्यक्ति "हेल हिटलर" चिल्लाता हुआ दिखाई दिया. पुलिस का कहना है कि उसने हमले के लिए शॉटगन का इस्तेमाल किया था.

पुलिस का कहना है कि संदिग्ध इस इलाक़े से नहीं है. यह हमला यहूदी त्यौहार शुरू होने के ठीक पहले हुआ है. हालांकि पुलिस ने इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया कि इसका यहूदी विरोध से कोई लेना देना है.

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस घटना पर दुख जताते हुए कहा है कि सरकार की तरफ से हरसंभव सहायता का वादा किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार