युद्ध में निर्णायक बढ़त हासिल की: असद

सीरिया के राष्ट्रपति बशर-अल-असद इमेज कॉपीरइट AP

सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद ने अपने देश में तीन साल से जारी गृहयुद्ध में मज़बूत स्थिति में होने का दावा किया है. वो इसे एक निर्णायक मोड़ मानते हैं.

उन्होंने दमिश्क विश्वविद्यालय में आयोजित एक समारोह में यह दावा किया.

असद समर्थित सुरक्षा बल लेबनान सीमा पर स्थित विद्रोहियों के क़ब्ज़े वाले शहरों को फिर से अपने नियत्रंण में लेने के लिए पिछले कई महीनों से अभियान चला रहे हैं.

इस गृह युद्ध में अब तक क़रीब डेढ़ लाख लोगों की मौत हो चुकी है और लाखों लोगों को अपना घर-बार छोड़ने के लिए मज़बूर होना पड़ा है.

राष्ट्रपति असद ने कहा, ''संकट के इस दौर में यह एक अहम क़दम है.'' उन्होंने कहा कि उनकी सेनाएं 'आतंकवाद के ख़िलाफ़ युद्ध' को जीत रही हैं.

दावेदारी

हाल के महीनों में सरकारी सेनाओं ने सीरिया के प्रमुख उत्तर-दक्षिण हाइवे पर नियंत्रण स्थापित कर कर विद्रोहियों की आपूर्ति लाइन को काट दिया है.

माना जा रहा है कि बशर अल असद राष्ट्रपति पद के लिए तीसरी बार अपनी दावेदारी पेश करेंगे.

बीबीसी संवाददाता लेज़ डाउसेट का कहना है कि असद के इस बयान के से यह साफ़ होता है कि हथियारबंद विद्रोहियों और अरब जगत तथा पश्चिम में उनके समर्थक देशों की बार-बार सत्ता छोड़ने की अपील के बाद भी वो सत्ता नहीं छोड़ने वाले हैं.

मानवाधिकार समूहों का कहना है कि सीरिया की वायुसेना ने रविवार को दमिश्क के आसपास के इलाक़ों में बम बरसाए.

हवाई हमला

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का कहना है कि हवाई हमलों में राजधानी के उपनगर डोउमा में 20 लोगों की मौत हो गई.

वहीं सीरिया की आधिकारिक समाचार एजेंसी ने ख़बर दी है कि मध्य दमिश्क में मोर्टार के हुए हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई और 20 अन्य घायल हो गए.

शुक्रवार को सरकार और विद्रोहियों ने एकदूसरे पर काफ़र ज़िता गाँव में ज़हरीली गैसों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था.

इस हमले में दो लोगों की मौत हो गई थी और दर्जनों लोग घायल हो गए थे.

पिछले साल अगस्त में राजधानी में हुए रासायनिक हमलों में सैकड़ों लोगों की मौत हो गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार