नाइजीरियाः स्कूल की 200 छात्राएं अग़वा हुईं

नाइजीरिया, बोको हराम इमेज कॉपीरइट

अभिभावकों ने जानकारी दी है कि पूर्वोत्तर नाइजीरिया के एक स्कूल में हुए हमले में बड़ी संख्या में छात्राओं का अपहरण कर लिया गया है.

बताया जा रहा है कि बोरनो शहर में चिबोक के एक स्कूल में बीती रात कुछ बंदूक़धारी पहुंचे और कथित तौर पर छात्रावास में रहने वाली लड़कियों को चार ट्रकों में बैठने का आदेश दिया.

अभिभावकों ने बीबीसी की हाउसा सेवा को बताया है कि इस घटना में कम से कम 200 लड़कियों को अग़वा किया गया है. आशंका जताई जा रही है कि इसके पीछे बोको हराम नाम के इस्लामिक चरमपंथी संगठन का हाथ है.

सोमवार को राजधानी अबुजा के बाहरी इलाक़े में एक बस स्टैंड पर हुए दो बम विस्फोटों में मारे गए 70 लोगों की मौत के लिए इसी समूह को दोषी ठहराया गया था.

नाइजीरियाः बम धमाकों में 70 से ज़्यादा की मौत

बोको हराम संगठन ने उत्तरी नाइजीरिया में इस्लामिक राज्य की मांग उठाते हुए सशस्त्र अभियान चला रखा है.

पुलिस ने चिबोक में छात्रावास पर हुए चरमपंथी हमले की पुष्टि कर दी है, लेकिन अपहरण के बारे में अभी कोई दावा नहीं किया गया है.

पश्चिमी शैली की शिक्षा

इमेज कॉपीरइट AFP

राजधानी अबूजा से बीबीसी संवाददाता मोहम्मद कबीर मोहम्मद ने प्रभावित इलाके के निवासियों के हवाले से बताया है कि बीती रात पहले विस्फोट हुआ और उसके बाद बंदूक चलने की आवाज सुनाई दी.

छात्राओं पर हुए ताज़ा हमले के तुरंत बाद एक छात्रा ने, नाम ज़ाहिर ना करने की शर्त पर, बीबीसी को बताया कि जब उसने अपने साथ पढ़ने वाली दोस्त को ट्रक के पिछले हिस्से से छलांग लगाते देखा तो वो भी वहां से भाग निकली.

नाइजीरिया में "बच्चों की फैक्ट्री" पर छापा

नाइजीरिया की मीडिया ने जानकारी दी है की इस हमले में सुरक्षा बल को दो जवान मारे गए हैं. साथ ही स्कूल पर हमले के दौरान कुछ संपत्ति को भी जला दिया गया है.

बोको हराम पश्चिमी शैली की शिक्षा के आलोचक रहे हैं. उनके सदस्यों ने अक्सर ऐसे स्कूलों और शिक्षण संस्थानों को निशाना बनाया है.

इस साल पूर्वोत्तर नाइजीरिया के तीन राज्यों में बोको हराम समूह के लड़ाकों के हमले में 1,500 से ज्यादा नागरिकों की मौत हुई है.

देश की सरकार ने हाल ही में बयान जारी करते हुए कहा कि बोको हराम की गतिविधियां नाइजीरिया के इसी इलाके तक सीमित हैं.

हालांकि अबूजा में सोमवार को हुए बम विस्फोट से लोगों के दिल में ये डर फिर से जाग गया है कि चरमपंथी अपने अभियान का विस्तार राजधानी तक कर रहे हैं.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार