यूक्रेन: स्लोवियांस्क में एक अपहृत सैन्य पर्यवेक्षक रिहा

पर्यवेक्षक रिहा इमेज कॉपीरइट AP

यूक्रेन के पूर्वी शहर स्लोवियांस्क में रूस समर्थक अलगाववादियों द्वारा बंदी बना कर रखे गए यूरोपीय सैन्य पर्यवेक्षकों में से एक को छोड़ दिया गया है. ऐसी ख़बर है कि यह पर्यवेक्षक स्वीडन के नागरिक हैं.

अलगाववादियों के प्रवक्ता ने बीबीसी को बताया कि ऐसी ख़बर है कि उन्हें चिकित्सकीय कारणों से छोड़ा गया है.

ऑर्गेनाइज़ेशन फ़ॉर सिक्यूरिटी एंड कॉपरेशन इन यूरोप के आठ पर्यवेक्षकों को शुक्रवार को रूस समर्थक अलगाववादियों ने अग़वा कर लिया था.

इनकी रिहाई के लिए सघन कूटनीतिक प्रयास किए जा रहे हैं.

यह पर्यवेक्षक जर्मनी, पोलैंड, स्वीडन, डेनमार्क और चैक गणराज्य के हैं. रविवार को मास्क पहने एक बंदूक़धारी ने इन्हें, मीडिया के सामने प्रस्तुत किया.

'मीडिया के सामने प्रस्तुत'

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption रविवार को एक मास्क पहने बंदूकधारी ने इन्हें, मीडिया के सामने प्रस्तुत किया.

अलगाववादी समूह से बात करने वाले जर्मनी के निगरानीकर्ता कर्नल एक्सेल शनाइडर ने ज़ोर देकर कहा कि अपहृत पर्यवेक्षक नेटो के अधिकारी नहीं हैं.

अलगाववादियों ने दावा किया था कि उन्होंने जिन लोगों को अपने क़ब्ज़े में लिया है वो सशस्त्र लड़ाके नहीं बल्कि सेना की वर्दी में कूटनीतिज्ञ थे.

इससे पहले ऑर्गेनाइज़ेशन फ़ॉर सिक्योरिटी एंड कॉपरेशन इन यूरोप के लिए रूस के प्रतिनिधि ने कहा था कि रूस यूक्रेन के पूर्वी हिस्से में अपहृत हुए यूरोप के सैन्य पर्यवेक्षकों की सुरक्षित रिहाई के लिए सभी संभव क़दम उठाएगा.

जर्मनी के विदेश मंत्री फ्रैंक वाल्टर स्टेनमियर ने कहा था कि ओएससीई, यूक्रेन और रूस सभी ने अपहृत दल की रिहाई के लिए मदद का प्रस्ताव दिया है.

उन्होंने रूस से विदेश मंत्री लावरोव से बात कर उनका पूरा समर्थन माँगा था. लावरोव ने उनसे पर्यवेक्षकों की रिहाई में सहयोग का वादा किया था.

साथ ही अमरीका के विदेश मंत्री जॉन केरी ने रूस से अपील भी की थी कि वह पूर्वी यूक्रेन में अपहृत किए गए यूरोपीय सैन्य पर्यवेक्षकों की रिहाई के लिए हर संभव उपाय करें. अपने रूसी समकक्ष के साथ एक टेलीफ़ोन वार्ता में जॉन केरी ने यूक्रेन की सीमा के नज़दीक रूसी सेना की गतिविधियों को भड़काऊ बताते हुए अपनी चिंता ज़ाहिर की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार