कराची एयरपोर्ट: ताज़ा हमले के बाद हमलावरों की तलाश शुरू

  • 10 जून 2014
कराची, हवाई अड्डे के समीप स्थित प्रशिक्षण केंद्र पर हमला Image copyright AP

पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर कराची में एयरपोर्ट सिक्योरिटी फोर्स (एएसएफ़) के जवानों और हथियारबंद लोगों के बीच फायरिंग के बाद अब हमलावरों की तलाश के लिए अभियान शुरू कर दिया गया है.

उधर कराची के हवाई अड्डे पर सामान्य सेवाएं बहाल कर दी गई हैं. 48 घंटों के भीतर मंगलवार को एयरपोर्ट पर दूसरी बार हमला हुआ. इसके बाद हवाई अड्डे को बंद कर दिया गया था.

देखिए तस्वीरें: कराची फिर निशाने पर

सुरक्षा बलों का कहना है कि मंगलवार को हुए हमले में किसी भी व्यक्ति के मारे जाने की ख़बर नहीं है.

एएसएफ़ के कर्नल ताहिर का कहना है कि दो हलमावरों ने फ़ायरिंग की जिस पर वहां से सौ मीटर दूर मौजूद एएसएफ़ के जवानों ने जवाबी फायरिंग की और कुछ जवानों ने सुरक्षा टावर से भी हमलावरों को निशाना बनाया.

कोई हताहत नहीं

उन्होंने बताया कि जवाबी कार्रवाई के बाद हमलावर वापस रिहायशी इलाक़े की तरफ़ भाग गए और इस हमले में न तो कोई मारा गया है और न ही कोई ज़ख्मी हुआ है.

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिम बाजो ने ट्विटर पर लिखा है कि हमलावरों की संख्या तीन से चार थी जिन्होंने एएसएफ़ के कैंप के पास फायरिंग की.

उनके मुताबिक न तो हमलावर कैंप में दाखिल हुए और ही कोई बाड़ पार की. उन्होंने कहा कि अब हालात नियंत्रण में हैं और हमलावरों की तलाश हो रही है.

फ़ायरिंग की सूचना मिलते ही रेंजर्स, पुलिस और एएसएफ़ के जवान घटनास्थल की तरफ भेजे गए जबकि कराची एयरपोर्ट की तरफ़ जाने वाले रास्ते बंद कर दिए गए.

इससे पहले रविवार रात को कराची हवाई अड्डे पर हमला हुआ जो 12 घंटे तक चला और उसमें 30 लोगों की मौत हो गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार