आख़िर कितनी मज़बूत है इराक़ी सेना?

इराक़ी सेना इमेज कॉपीरइट Reuters

इराक़ में चरमपंथियों ने एक और शहर तल अफ़ार पर कब्ज़ा कर लिया.

इस्लामिक स्टेट इन इराक़ एंड द शाम, आईएसआईएस की अगुवाई में चरमपंथियों ने पिछले हफ्ते मोसूल और तिकरित पर कब्ज़ा कर लिया था लेकिन कुछ इलाक़ों पर सरकार ने वापस कब्ज़ा कर लिया है.

क्या वजह है कि चरमपंथी लगातार इराक़ी सेना पर भारी पड़ते नज़र आ रहे हैं.

कितनी मजबूत है इराक़ी सेना, बीबीसी का एक संक्षिप्त आकलन.

'आत्मबल में कमी'

इराक़ की सेना को सालों तक अमरीका और ब्रितानी सेनाओं के साथ प्रशिक्षण का फ़ायदा हासिल है. इसके साथ ही उसे ख़रबों डॉलरों की सैन्य सहायता भी मिली है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

इराक़ की सेना में 2,70,000 सैनिक और 300 टैंक हैं. 2013 में सैन्य ख़र्च 17 खरब डॉलर तक पहुंच गया था. इसने अमरीका से हेलिकॉप्टर और एफ़-16 जेट ऑर्डर किए हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

लेकिन लगातार हो रहे जिहादी हमलों से सैनिकों के आत्मबल में कमी आई है और बहुत से मारे गए हैं.

पलायन के कारण भी सेना अपने सैनिकों को खो रही है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

मोसूल में कुछ सैकड़ा लड़ाकों को देखकर 30,000 सैनिक भाग खड़े हुए. वे अपने हथियार और वाहन भी छोड़ गए.

इमेज कॉपीरइट AP

आशंका है कि इन हथियारों और वाहनों का इस्तेमाल जिहादी इराक़ और सीरिया में कर सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार