यूक्रेन: विद्रोहियों ने सेना का हेलीकॉप्टर गिराया

विद्रोही इससे पहले यूक्रेन की सेना के कम से कम दो हेलीकॉप्टरों और एक विमान को गिरा चुके हैं इमेज कॉपीरइट Reuters

यूक्रेन की सेना का कहना है कि देश के पूर्वी इलाक़े में रूस समर्थक विद्रोहियों ने उसके एक हेलीकॉप्टर को मार गिराया है. हेलीकॉप्टर में सवार सभी नौ लोग मारे गए हैं.

यूक्रेन की सेना का कहना है कि यह एक एमआई-8 हेलीकॉप्टर था जिसका इस्तेमाल सैन्य परिवहन के लिए किया जाता है.

इस हेलीकॉप्टर को एक रॉकेट से तब निशाना बनाया गया जब इसने विद्रोहियों के क़ब्ज़े वाले स्लोवियांस्क शहर के बाहरी इलाक़े से उड़ान भरी ही थी.

यूक्रेन की सेना के इस दावे पर विद्रोहियों ने सार्वजनिक तौर पर कोई टिप्पणी नहीं की है.

इस घटना से एक दिन पहले ही विद्रोहियों ने सरकार की शांति योजना के जवाब में शुक्रवार तक संघर्ष विराम का पालन करने की घोषणा की थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

लेकिन रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने चेतावनी दी है कि एक हफ़्ते का संघर्ष विराम काफ़ी नहीं होगा.

पुतिन का कहना है कि संघर्ष विराम की अवधि बढ़ाई जानी चाहिए ताकि यूक्रेन सरकार और अलगाववादियों के बीच टिकाऊ बातचीत हो सके.

सैन्य दख़ल का अधिकार रद्द

इससे पहले, पुतिन ने रूसी संसद से यूक्रेन में सैन्य दख़ल का अधिकार रद्द करने के लिए कहा.

इमेज कॉपीरइट Reuters

पुतिन के प्रेस सचिव ने कहा कि इस पहल का उद्देश्य यूक्रेन के पूर्वी इलाक़ों में 'हालात सामान्य करना' है.

रूस की संसद ने यूक्रेन में बल प्रयोग के लिए पुतिन को एक मार्च को अधिकृत किया था.

इसके जवाब में यूक्रेन के राष्ट्रपति पेट्रो पोरोशेंको ने कहा कि पुतिन की यह पहल पूर्वी इलाक़ों में संकट के समाधान की दिशा में 'पहला व्यावहारिक क़दम' है.

रूस इससे पहले यूक्रेन की शांति योजना का आधिकारिक तौर पर समर्थन कर चुका है जिसमें एक हफ़्ते का संघर्ष विराम भी शामिल है.

लेकिन बाद में ऑस्ट्रिया के दौरे पर पुतिन ने ज़ोर देकर कहा कि सैन्य बलों के इस्तेमाल के अधिकार को रद्द करने का मतलब यह नहीं है कि रूस ''यूक्रेन में सजातीय रूसियों का बचाव करना बंद कर देगा...जो ख़ुद को वृहद रूसी दुनिया का हिस्सा मानते हैं.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार