कौन सी माफ़ी होती है दिल से वाली?

  • 4 जुलाई 2014
माफी मांगने की कला

आजकल सेक्स स्कैंडल, भ्रष्टाचार के आरोप और अपशब्द जैसी चीज़ों का सेलेब्रिटीज़ और राजनीतिक हस्तियों से चोली-दामन का साथ हो गया लगता है.

और जब इस तरह की शर्मसार कर देने वाली ख़बरें जब सामने आती हैं तो वे अकसर सार्वजनिक रूप से अपने किए की माफी मांगते हैं.

'सॉरी अबाउट दैटः द लैंगुएज ऑफ़ पब्लिक अपोलोजी' के लेखक एडविन एल बैटिस्टेला कहते हैं कि सार्वजनिक रूप से मांगी जाने वाली अधिकांश माफ़ी उपने उद्देश्य में सफल नहीं होतीं.

प्रभावी ढंग से माफ़ी मांगने के बारे उन्होंने बीबीसी से अपने विचार साझा किए.

एडविन कहते हैं, "मैं माफ़ी मांगता हूं, मैं माफ़ी के लायक नहीं हूं, मैं बेहद शर्मिंदा हूं- आजकल ऐसे शब्द कहने का जैसा चलन सा हो गया है."

एडविन का कहना है कि वो जॉनी हिल्स की माफ़ी से काफ़ी प्रभावित हुए.

एक्टर जॉनी हिल्स ने पेपाराज़ी मामले में अपने बयान की ख़ुद निंदा की थी.

जॉनी ने कहा था, "जब भी कोई ऐसा काम करे जिससे आप दुखी हों या आपको गुस्सा आए तो मेरे उदाहरण सीखिए कि ऐसी स्थिति में क्या नहीं करना चाहिए."

माफ़ी माँगने वालों में अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन, उनकी पत्नी हिलेरी क्लिंटन से लेकर पूर्व अमरीका राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन तक का नाम शामिल है.

बिल क्लिंटन ने मोनिका लेवेंस्की के मामले में, तो हिलेरी ने बेनगाज़ी पर और रीगन ने ईरान को हथियार देने के मामले में माफ़ी मांगी थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार