सेना से नहीं सांपों से लगता है डर!

सांप इमेज कॉपीरइट Thinkstock

नाइजीरियाई सेना चरमपंथी संगठन बोको हराम के लड़ाकों को जंगल में उनके ठिकानों से निकालने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है, लेकिन ऐसा लगता है कि इस काम को सेना के मुकाबले सांप अधिक बेहतर ढंग से कर रहे हैं.

वैनगार्ड समाचार पत्र के मुताबिक उत्तर-पूर्वी नाइजीरिया के मैडुगुरि में स्थानीय स्वयंसेवकों ने दो संदिग्ध बोको हराम बंदूकधारियों को पकड़ा और इन स्वयंसेवकों का कहना था कि ये बंदूकधारी सांप के काटने के कारण जंगल में बेहोश हो गए थे.

इस संदिग्धों में एक कोलो मुस्तफा ने बताया कि सांप के साथ ही इस हमले में मधुमक्खियां भी शामिल हो गईं.

मौत का बदला!

समाचार पत्र के मुताबिक उन्हें इस बात का डर भी सता रहा है कि जिन लोगों की उन्होंने हत्या की है शायद वो अपनी मौत का बदला ले रहे हैं.

मुस्तफा ने बताया कि वो इसलिए पकड़ गया क्योंकि वो सांपों से बचने के लिए कस्बे की ओर भागा.

स्थानीय स्वयंसेवकों का कहना है कि पिछले दो सप्ताह के दौरान बड़ी संख्या में बोको हराम के लड़ाके जंगल छोड़ चुके हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार