'रिहा हुई नर्सें, इरबिल से कोच्चि पहुँचेंगी'

  • 4 जुलाई 2014
आईएसआईएस

भारत के विदेश मंत्रालय के अनुसार इराक़ में फँसी 46 भारतीय नर्सें अब आज़ाद हैं.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अक़बरुद्दीन ने बताया है कि ये नर्सें शुक्रवार रात को भारत सरकार के विशेष विमान से भारत के लिए रवाना होंगी.

प्रवक्ता ने कहा कि यह विमान इराक़ के इरबिल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से पहले भारत के कोच्चि पहुँचेगा. फिर ज़रूरत हुई तो विमान दिल्ली आएगा.

नर्सों को भारत पहुँचाने की कार्रवाई शुरू की जा चुकी है.

इससे पहले ओमन चैंडी ने बीबीसी तमिल सेवा के जय कुमार से कहा था, "वे सभी सुरक्षित हैं और कल सुबह तक (शनिवार सुबह) भारत पहुँच जाएँगी. विदेश मंत्रालय और केरल सरकार उन्हें भारत लाने की कोशिश कर रहे हैं और सभी तरफ़ से सकारात्मक संकेत हैं."

माँ की ख़ुशी

इस ख़बर के आने के बाद इराक़ में बंधक रही एक नर्स श्रुति की माँ शोभा शशि ने बीबीसी हिंदी से बातचीत में ख़ुशी जताई.

उन्होंने कहा, "मैं बहुत ख़ुश हूँ. मेरी बेटी सुबह तक घर पहुँच जाएगी."

इससे पहले एक भारतीय नर्स ने अपने घर फ़ोन कर बताया कि उन नर्सों को इस्लामिक स्टेट इन इराक़ ऐंड अल-शाम यानी आईएसआईएस ने छोड़ने का फ़ैसला किया है.

बीबीसी से बातचीत में एक नर्स के रिश्तेदार ने बताया कि इराक़ में बंधक बनाई गई नर्स से उनकी सुबह फोन पर बात हुई है.

उन्होंने बताया कि नर्सों के दल को आईएसआईएस ने छोड़ने का फ़ैसला किया है और उन्हें इरबिल ले जाया जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार