हमें कोई रोक नहीं सकता: इसराइल

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इसराइली प्रधानमंत्री बेन्यामिन नेतन्याहू ने कहा है कि कोई भी अंतरराष्ट्रीय दबाव उनके देश को 'ग़ज़ा के चरमपंथियों के ख़िलाफ पूरी ताक़त से कार्रवाई करने से नहीं रोक सकता'.

उन्होंने कहा कि जब तक ग़ज़ा से होने वाले रॉकेट हमले नहीं रुकेंगे तब तक ग़ज़ा पर इसराइल के हवाई हमले तेज़ होते रहेंगे.

इस बीच ग़ज़ा में होने वाली इसराइल की कार्रवाई में मरने वाले फ़लस्तीनियों की संख्या 105 हो गई है जिनमें आम लोग और बच्चे भी शामिल हैं.

संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार आयुक्त नवी पिल्लई ने कहा है कि इसराइल के सैन्य अभियान से अंतरराष्ट्रीय क़ानून का हनन हो सकता है.

'अच्छी बातचीत'

नेतन्याहू ने कहा कि उनकी अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल से टेलीफ़ोन पर 'अच्छी बात' हुई है, लेकिन कोई भी दबाव 'हमें पूरी शक्ति के साथ कार्रवाई करने से नहीं रोक सकता है.'

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इस बीच ग़ज़ा पट्टी से इसराइल में रॉकेट हमले हो रहे हैं जिनसे संपत्ति को नुकसान होने के अलावा कई लोग घायल भी हुए हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

वहीं फ़लस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि इसराइल की कार्रवाई में मारे गए लोगों के अलावा 675 लोग घायल भी हुए हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इसराइल का कहना है कि मरने वाले लोगों में 'दर्जनों चरमपंथी' शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

दोनों पक्षों में ताज़ा संकट की वजह पिछले दिनों अग़वा हुए तीन इसराइली युवक बने जिनके बाद में शव मिले. इसके बाद एक फ़लस्तीनी युवक को अगवा कर उसकी हत्या कर दी गई.

अमरीका ने दोनों पक्षों के बीच संघर्ष-विराम कराने की पेशकश रखी है, लेकिन हालात लगातार बिगड़ रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार