ऐप जो दे मिसाइल आने की ख़बर

यो एप इमेज कॉपीरइट

इसराइल में फ़लस्तीनी मिसाइल हमलों से आगाह करने के लिए अब 'यो' नाम के ऐप का इस्तेमाल किया जा रहा है.

इसराइल में पहले से ही चल रही मिसाइल नोटिफिकेशन सर्विस 'रेड अलर्ट' ने खुद को इस ऐप से जोड़ा है.

'रेड अलर्ट' ऐसी सर्विस है जो इसराइल की वायुसेना और होमफ्रंट कमांड की मदद से फ़लस्तीन की ओर से इसराइल में दागी गई मिसाइल की जानकारी लोगों को देता है.

'रेड अलर्ट' को दो इसराइलियों आरी स्प्रूंग और कोबी स्नायर ने तैयार किया है जबकि 'यो' ऐप को सान फ्रांसिस्को निवासी एक इसराइली ने बनाया है.

हालांकि इस ऐप को लेकर विशेषज्ञ सशंकित हैं. कुछ लोगों का कहना है कि यह आधी अधूरी तैयारी के साथ शुरू किया गया है.

आलोचकों का कहना है कि यह एक हथकंडा है और यह अमानवीयता को और बढ़ाने वाली है.

इसराइल में इस सेवा के सलाहकार रहे द्वीर रिज़निक कहते हैं, ''यदि आप इसराइल में इस तरफ़ हैं और मीलों दूर कोई मिसाइल गिरती है तो आपके लिए इसका कोई इस्तेमाल नहीं होता है.''

आसान ऐप

'यो' एक आसान ऐप है, जो यूज़र्स से पहले टैक्स्ट के रूप में रू-ब-रू होता है. फिर आवाज के जरिए नोटिफिकेशन देता है.

इमेज कॉपीरइट

अप्रैल में लांच होने के बाद अबतक इसे बीस लाख लोग डाउनलोड कर चुके हैं.

दोस्तों के बीच ध्वनि संदेशों के आदान-प्रदान में इसका इस्तेमाल होता है.

हालांकि, इसराइल की दूसरी तरफ़ ग़ज़ा में इस तरह का कोई ऐप नहीं है और मिसाइल हमलों के चेतावनी ट्विटर हैश टैग से दी जाती है.

इसराइल की टेक वेबसाइट 'गीक टाइम' के यानिव फेल्डमन कहते हैं कि 'यो' की योजना सबसे घटिया विचार है. इसका उपयोगिता सिर्फ उन लोगों में जागरूकता फैलाने में है जो इसराइल से बाहर हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार