'क्लासरूम में ही टीचर की हत्या कर दी'

  • 12 जुलाई 2014
एन मैग्वॉयर इमेज कॉपीरइट

ब्रिटेन के एक 16 वर्षीय छात्र ने स्वीकार किया है कि उन्होंने क्लासरूम में ही अपने टीचर की हत्या कर दी.

किशोर के वकील रिचर्ड राइट ने अदालत को यह जानकारी दी.

इस किशोर पर 28 अप्रैल को लीड्स में कॉर्प्स क्रिस्टी कैथोलिक कॉलेज में 61 वर्षीय स्पेन मूली की शिक्षिका एन मैग्वॉयर की हत्या करने का आरोप लगा था.

छात्र की ओर से कोई औपचारिक सफ़ाई नहीं दी गई थी लेकिन रिचर्ड राइट ने बचाव में कहा, "उन्होंने मृतक की ग़ैर-क़ानूनी हत्या की ज़िम्मेदारी स्वीकार की है."

किशोर के परिवार के सदस्यों ने दर्शक दीर्घा से मामले की सुनवाई को देखा.

सोशल मीडिया पर चर्चा न करें

हत्या के वक़्त छात्र 15 साल के थे और क़ानूनी वजहों से उन्हें नामित नहीं किया जा सकता था. वह वीडियो लिंक के माध्यम से अदालत में पेश हुए.

लीड्स के मूरटाउन की निवासी मैग्वॉयर इस स्कूल में 40 से अधिक वर्षों से काम कर रही थीं. दो बच्चों की माँ मैग्वॉयर उसी साल सितंबर में सेवानिवृत्त होने वाली थीं.

मामले की अगली सुनवाई से पहले एक विशेषज्ञ मनोवैज्ञानिक रिपोर्ट तैयार की जाएगी.

छात्र को कहा गया कि उन्हें 26 सितंबर को सुनवाई के लिए फिर से पेश होना पड़ेगा. उन्हें तब तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया.

मामले की सुनवाई कर रहे दोनों जजों और सरकारी वकील ने आम जनता से अपील की है कि वे इस मामले की चर्चा सोशल मीडिया पर करते वक़्त सतर्कता बरतें. उन्होंने इस बात पर भी ज़ोर दिया है कि प्रतिवादी का नाम लेने और मुक़दमे की सुनवाई से पहले कोई ब्योरा देने पर जुर्माना लगाया जा सकता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार