अमरीका-ईयू ने रूस पर प्रतिबंध कड़े किए

पूर्वी यूक्रेन में एक रूस समर्थक अलगाववादी इमेज कॉपीरइट AFP

यूक्रेन में अलगाववादियों को कथित समर्थन के लिए अमरीका और यूरोपीय संघ ने रूस पर प्रतिबंध और कड़े कर दिए हैं.

अमरीकी प्रतिबंधों में गाज़प्रॉम बैंक जैसे मुख्य बैंक, रक्षा क्षेत्र की कंपनियां, रॉसनेफ़्ट जैसी बिजली कंपनियां और हथियार बनाने वाली कंपनी कलाशनिकोव कन्सर्न शामिल हैं.

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के हवाले से कहा गया है कि प्रतिबंधों से अमरीका-रूस रिश्तों में गतिरोध पैदा होगा.

वहीं यूरोपीय संघ ने कहा है कि वो प्रतिबंधों के बारे में जानकारी इस महीने के आख़िर में जारी करेगा.

लेकिन ईयू ने ये भी कहा कि उसके निवेश बैंक अब से रूसी परियोजनाओं के लिए पैसा नहीं देंगे.

वजह

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption यूक्रेनी प्रधानमंत्री आर्सनी यात्सेनयुक उन इलाकों का दौरा कर रहे हैं जहां लड़ाई हो रही है.

अमरीकी प्रतिबंधों के दायरे में पूर्वी यूक्रेन में दो स्व-घोषित विद्रोही संगठन-दोनेत्स्क पीपुल्स रिपब्लिक और लुहान्स्क पीपुल्स रिपब्लिक भी शामिल हैं.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि प्रतिबंध इसलिए लगाए गए हैं क्योंकि यूक्रेन में तनाव को कम करने के अपने वादे को रूस ने पूरा नहीं किया है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप हमसे फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ सकते हैं.)

संबंधित समाचार