इसराइल के लिए विमान सेवाएं स्थगित

  • 23 जुलाई 2014
अमरीकी विमानन कंपनियों के जहाज

ग़ज़ा में जारी संघर्ष के बीच अमरीका और यूरोप के नागरिक उड्डयन नियंत्रकों ने एयरलाइंस कंपनियों से इसराइल के लिए हवाई सेवाए स्थगित करने को कहा है.

ऐसा सुरक्षा कारणों के चलते किया गया है क्योंकि एक रॉकेट तेल अवीव हवाई अड्डे के पास गिरा था.

अमरीका के संघीय विमानन प्रशासन (एफ़एए) ने डेल्टा, यूनाइटेड और यूएस एयरवेज़ को 24 घंटे के लिए इसराइल के लिए विमान सेवाएं रोकने को कहा है.

यूरोपियन एविएशन सेफ़्टी एजेंसी (ईएएसए) ने भी अपनी एयरलाइंस कंपनियों से तेल अवीव के लिए उड़ान न भरने को कहा है.

इसराइल के प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू ने अमरीका से इस फ़ैसले की समीक्षा करने की अपील की है.

वहीं इसराइल के यातायात मंत्रालय का कहना है कि तेल अवीव का बेन ग्यूरियान हवाई अड्डा पूरी तरह सुरक्षित है.

बातचीत की अपील

इससे पहले संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने इसराइल और फ़लस्तीनियों से अपील की है कि वो ग़ज़ा संघर्ष को ख़त्म करने के लिए लड़ाई रोककर बातचीत शुरू करें.

इसराइल की ओर से कूटनीतिक प्रयास किए जाने के बाद मून ने यह बात कही.

अधिकारियों का कहना है कि ग़ज़ा में 14 दिन से जारी लड़ाई में 600 फ़लस्तीनी और 29 इसराइली मारे गए हैं. इससे पहले अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने कहा कि मिस्र के संघर्ष विराम के प्रस्ताव को आधार बनाया जाए.

ग़ज़ा के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक़ अब तक 3640 लोग घायल हुए हैं.

ग़ज़ा में जारी संकट के बीच इसराइल ने कहा है कि संघर्ष विराम प्रस्तावों को न मानने के लिए हमास को ज़िम्मेदार ठहराया जाना चाहिए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार