ग़ज़ा: मरने वालों की संख्या 1000 के पार

ग़ज़ा इमेज कॉपीरइट AFP

ग़ज़ा के स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि वहां हो रहे इसराइली हमलों में मरने वाले फ़लस्तीनियों की संख्या 1000 को पार कर गई है. इस दौरान करीब 40 इसराइली मारे गए हैं.

इस बीच इसराइल और हमास के बीच 19 दिनों से जारी संघर्ष के बाद 12 घंटे का संघर्ष विराम शुरू हो गया है.

ये संघर्ष विराम स्थानीय समय के मुताबिक़ सुबह आठ बजे से शुरू हुआ.

मानवीय आधार पर हमलों को रोका गया है ताकि ग़ज़ा के लोग अपने घरों में लौटकर ज़रूरी सामान इकट्ठा कर सकें, या फिर मलबे में फंसे लोगों की तलाश कर सकें.

पेरिस बैठक

लेकिन इसराइल का कहना है कि संघर्ष विराम के दौरान भी वो हमास के ज़रिए बनाई गईं सुरंगों की तलाश और उन्हें नष्ट करने का अभियान जारी रखेगा.

इमेज कॉपीरइट AFP

अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी तुर्की, क़तर और कई यूरोपीय देशों के विदेश मंत्रियों के साथ पेरिस में मुलाक़ात करेंगे.

जॉन केरी का कहना था, "हमारे पास बातचीत करने के लिए बुनियादी प्रारूप है. हमें भरोसा है कि ये काम करेगा. इस पर लगातार काम करने की ज़रूरत है. हमारा मानना है कि सात दिन के लिए दोनों पक्ष संघर्ष रोकें और इस मौक़े का इस्तेमाल मतभेद की वजहों के हल पर केंद्रित करें."

अब तक इस संघर्ष में 1000 से ज़्यादा फ़लस्तीनी और करीब 40 इसराइली मारे जा चुके हैं. संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि मारे गए फ़लस्तीनियों में अधिकांश आम नागरिक हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार