सोशल सरगर्मी: मोदी, किक और बत्रा की कहानी

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट Getty

नरेंद्र मोदी, मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी, ईद और सहारनपुर दंगे के साथ सलमान ख़ान की किक पर भी सोशल मीडिया पर चर्चा हो रही है.

ट्विटर पर सबसे ऊपर ट्रेंड कर रहा हैशटैग है - #YoModiSoManmohan

इसे ट्रेंड कराया है आम आदमी पार्टी के समर्थकों ने, जिनका आरोप है कि नरेंद्र मोदी की सरकार दिल्ली में चुनाव नहीं करवा रही.

ये लोग इस बात से भी नाराज़ हैं कि दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी के कुछ समर्थकों को कथित रूप से भड़काऊ पोस्टर चिपकाने के आरोप में गिरफ़्तार किया है.

इसके अलावा सोशल मीडिया पर दीनानाथ बत्रा की किताबों को गुजरात के स्कूलों में पढ़ाने को लेकर आई ख़बरों को भी लोग चटखारे लेकर पढ़ रहे हैं.

'बत्रा की कहानियां'

दीनानाथ बत्रा की लिखी जो किताबें गुजरात सरकार स्कूलों में पढ़ाना चाहती है उनमें भारत के 'गौरवशाली अतीत' का ज़िक्र किया गया है.

इसे लेकर #BatraTales हैशटैग भी ट्रेंड कर रहा है.

ट्विटर पर एक यूज़र अश्विन मुशरान ( @ashwinmushran) ने बत्रा का मज़ाक उड़ाते हुए ट्वीट किया है, "पहला केवमैन (गुफा में रहने वाला मानव) भारतीय था और कवि था. केव भारतीय शब्द 'कवि' से आया और मैन बना मन से जिसका मतलब दिल होता है.#BatraTales"

संन्यासी ( @rchops) नाम के एक यूज़र ने लिखा है, "पहले अंडा या चूजा? असल में बेटा सबसे पहले च्यवनप्राश आया.#BatraTales"

सोनिया गांधी की इफ़्तार पार्टी की चर्चा फ़ेसबुक पर हो रही है. वहीं लोग #EidMubarak हैशटैग के साथ ईद की मुबारकबाद भी दे रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

सहारनपुर में दंगे के बाद कर्फ़्यू में ढील दिए जाने की ख़बरें ट्विटर पर #Saharanpur हैशटैग के साथ ट्रेंड कर रही हैं.

इसी हैशटैग के साथ सहारनपुर के कुछ वीडियो और तस्वीरें भी शेयर की जा रही हैं.

शाहरुख़-सलमान के फ़ैन आमने-सामने

ट्विटर पर शाहरुख़ और सलमान के प्रशंसक आमने-सामने हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

शाहरुख़ के प्रशंसक उस कंसर्ट की बात कर रहे हैं जो शाहरुख़ अपनी फ़िल्म 'हैप्पी न्यू ईयर' को प्रमोट करने के लिए पूरी दुनिया में करने वाले हैं.

ये ट्रेंड कर रहा है #TheSlamJam हैशटैग के साथ.

शाहरुख़ के प्रशंसक सलमान पर व्यंग्य कर रहे हैं कि सलमान की 'किक' बॉक्स ऑफ़िस पर शाहरुख़ की चेन्नई एक्सप्रेस का रिकॉर्ड तोड़ने में नाकाम रही.

पाकिस्तान के गुजरांवाला में अल्पसंख्यक अहमदी समुदाय के घरों में भीड़ के आग लगाने और चार लोगों की हत्या को लेकर पाकिस्तान में सोशल मीडिया पर जमकर बहस हो रही है.

इमेज कॉपीरइट epa

ये हमला फ़ेसबुक पर कथित तौर पर आपत्तिजनक पोस्ट किए जाने के बाद हुआ था.

पत्रकार नुदर्रत ख्वाजा ने एक कार्टून ट्वीट किया है जिसमें शिया, हज़ारा और अहमदी की लाशों पर खड़े लोग फ़लस्तीन को लेकर गुस्सा जता रहे हैं.

पत्रकार बीना सरवर ने ट्विटर पर लिखा है, "मैं उम्मीद कर रही हूं कि वो तमाम उग्र राष्ट्रवादी पाकिस्तानी जो ग़ज़ा को लेकर रो रहे हैं देश में अहमदियों पर हो रहे अत्याचार के बारे में कुछ तो कहेंगे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार