ग्लासगोः गिरफ्तार अधिकारी आरोप मुक्त

  • 4 अगस्त 2014
भारतीय ओलम्पिक संघ का लोगो इमेज कॉपीरइट no credit

ग्लासगो में गिरफ्तार किए भारतीय ओलम्पिक संघ से जुड़े अधिकारियों पर लगाए गए आरोप हटा लिए गए हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक आईओए के महासचिव राजीव मेहता और कुश्ती के रेफरी वीरेंद्र मलिक पर लगे आरोप सबूतों के अभाव में हटाए गए हैं.

(ग्लासगो में दो भारतीय अधिकारी गिरफ्तार)

इनमें से एक अधिकारी पर यौन हिंसा का भी आरोप लगाया गया था. हालांकि स्कॉटलैंड पुलिस ने गिरफ्तार किए गए अधिकारियों के नामों की जानकारी नहीं सार्वजनिक नहीं की थी.

इन पर मारपीट करने का आरोप लगा गया था.

सोमवार को इन्हें मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाना था.

ये अधिकारी भारत के विभिन्न खेलों के खिलाड़ियों, अधिकारियों, कोच और सहायक स्टाफ़ की 305 लोगों की टीम का हिस्सा हैं.

राष्ट्रमंडल खेलों का समापन तीन अगस्त को हो गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार