फ़लस्तीनी गुटों का संघर्ष विराम न बढ़ाने का 'फ़ैसला'

इमेज कॉपीरइट AP

काहिरा में फ़लस्तीनी सूत्रों के अनुसार हमास और अन्य फ़लस्तीनी गुटों के प्रतिनिधियों इसराइल के साथ 72 घंटे के संघर्ष विराम को आगे न बढ़ाने का फ़ैसला किया है.

शुक्रवार सुबह ये संघर्ष विराम समाप्त हो गया.

एक महीने से फ़लस्तीनी चरमपंथियों की ओर से रॉकेट हमले और इसराइली सेना की ओर से भीषण बमबारी जारी है.

इस कार्रवाई में लगभग 1900 फ़लस्तीनी और 67 इसराइलियों की जान गई है.

(बीबीसी विशेष - इसराइल और ग़ज़ा के बीच संघर्ष)

हमास की मांग

फ़लस्तीनियों का कहना है कि इसराइल ने उनकी मूल मांगे जिनमें ग़ज़ा बंदरगाह को खोलना शामिल है, नहीं मानी हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

संघर्ष विराम के ख़त्म होने से कुछ घंटे पहले इसराइली सेना ने आरोप लगाया था कि ग़ज़ा से उसकी तरफ़ दो रॉकेट दागे गए हैं, जिसके लिए 'आतंकवादी' ज़िम्मेदार हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

उस समय इसराइल का कहना था कि वह संघर्ष विराम बढ़ाने के लिए तैयार है.

इमेज कॉपीरइट AFP

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने पहले संघर्ष विराम लागू करने और फिर इसे बढ़ाने की बात कही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार