देश में कोई प्रजातंत्र नहीं: इमरान ख़ान

  • 16 अगस्त 2014
इस्लामाबाद मार्च इमेज कॉपीरइट AP

पाकिस्तान में तहरीके इंसाफ़ पार्टी के नेता इमरान ख़ान ने कहा है कि जब तक प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ अपने पद से इस्तीफ़ा नहीं देंगे तबतक वो अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठे रहेंगे.

इस्लामाबाद के आबपारा चौक पर शनिवार की सुबह चार बजे के आस-पास एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए इमरान ख़ान ने ये बातें कहीं.

लगातार बारिश के बावजूद इमरान ख़ान के हज़ारों समर्थक जलसे में मौजूद थे.

इमरान ख़ान ने कहा कि देश में कोई प्रजातंत्र है ही नहीं, लिहाज़ा उन पर इसे डीरेल करने के आरोप बेबुनियाद हैं.

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी एक नया पाकिस्तान बनाएगी. उन्होंने कहा कि ये आज़ादी की लडा़ई है और देश को आज़ाद कराने में अगर उनकी जान भी चली जाए तो उन्हें इसकी परवाह नहीं है.

इमरान ख़ान ने कहा कि शनिवार दोपहर तीन बजे से वो धरने की शुरूआत करेंगे.

इससे पहले इमरान ख़ान के नेतृत्व वाला 'आज़ादी मार्च' इस्लामाबाद पहुंचकर समाप्त हो गया और फिर उनके हज़ारों समर्थक आबपारा चौक पर जमा हुए जहां सरकार ने उन्हें जलसा करने की इजाज़त दी थी.

14 अगस्त की दोपहर को लाहौर से शुरू हुआ 'आज़ादी मार्च' 34 घंटों में लगभग 100 किलोमीटर की दूरी तय करके शुक्रवार देर रात राजधानी इस्लामाबाद पहुंचा.

ताहिरुल क़ादरी

इमरान ख़ान के अलावा धार्मिक नेता ताहिरुल क़ादरी भी सरकार विरोधी मार्च करते हुए इस्लामाबाद पहुंच चुके हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

उनके हज़ारों समर्थक कश्मीर हाईवे पर स्थित ख़्याबान-ए-सुहरावर्दी चौक पहुंच चुके हैं जहां पर सरकार ने उन्हें जलसा करने की इजाज़त दी है.

इमरान ख़ान और ताहिरुल क़ादरी नवाज़ शरीफ़ से इस्तीफ़े की मांग कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

इमरान ख़ान का कहना है कि नवाज़ शरीफ़ फ़ौरन इस्तीफ़ा दें और 2013 में हुए चुनाव के दौरान कथित धांधलियों की जांच के लिए एक आयोग का गठन किया जाए.

नवाज़ शरीफ़ ने चुनावों में कथित धांधलियों की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट के जजों पर आधारित आयोग के गठन की घोषणा कर दी है लेकिन इमरान ख़ान ने इसे ख़ारिज कर दिया है. उनके अनुसार नवाज़ शरीफ़ के इस्तीफ़े के बाद ही किसी जांच आयोग का गठन किया जाना चाहिए.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार