सोशल सरगर्मी: भारतीय क्रिकेट का 'नया झंडा'

भारतीय क्रिकेट टीम इमेज कॉपीरइट Reuters

आज सोशल मीडिया पर चर्चा हो रही है भारतीय क्रिकेट टीम की हार, वरुण गांधी और योजना आयोग की.

भारत जिस तरह से इंग्लैंड के हाथों टेस्ट सिरीज़ में हारा उसे लेकर भारतीय क्रिकेट टीम के प्रशंसक ख़ासे नाराज़ हैं.

कुछ लोग इसे लेकर भारतीय क्रिकेट टीम का मज़ाक भी उड़ा रहे हैं.

अभिषेक शर्मा ने लिखा है, "कुछ साल पहले हम सचिन के शतक, द्रविड़ के दोहरे शतक और सहवाग के तिहरे शतक का इंतज़ार करते थे. अब हम भारतीय टीम के 100 रन बनाने का इंतज़ार करते हैं.#IndvsEng #EngvInd"

'नया झंडा'

इमेज कॉपीरइट michael vaughan twitter
Image caption सफ़ेद झंडे को ट्वीट करने के बाद वॉन भारत में ट्रेंड कर रहे हैं.

लेकिन भारतीय टीम और भारतीय प्रशंसकों के ज़ख़्मों पर नमक छिड़का है इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेट कप्तान माइकल वॉन ने.

वॉन ने एक सफ़ेद झंडे की तस्वीर ये कहते हुए ट्वीट की है, "भारतीय क्रिकेट का नया झंडा." वॉन के इस ट्वीट को 1700 से ज़्यादा बार रिट्वीट किया जा चुका है.

सफ़ेद झंडे को शोक और संघर्ष विराम की अपील का प्रतीक माना जाता है.

भारतीय क्रिकेट टीम पर धीमे ओवर रेट के लिए जुर्माना भी कर दिया गया है. एक और हार की चर्चा सोशल मीडिया पर है.

ये हार मिली है मैनचेस्टर यूनाइटेड को स्वॉन्सी के हाथों. इंग्लिश प्रीमियर लीग में स्वॉन्सी ने मैनचेस्टर यूनाइटेड को 2-1 से हराया.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption मैनचेस्टर यूनाइटेड को स्वॉन्सी ने 2-1 से हराया

सोशल मीडिया पर आज योजना आयोग की भी चर्चा हो रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस संस्था को ख़त्म करने का ऐलान कर चुके हैं.

गुलज़ार को बधाई

अब चर्चा ये है कि योजना आयोग की जगह एक 'थिंक टैंक' लेगा जिसके सदस्य खुली अर्थव्यवस्था के समर्थक अर्थशास्त्री बिबेक देबरॉय, अरविंद पनगढ़िया और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु होंगे.

वरुण गांधी और फ़िल्मकार गुलज़ार को भी लोग सोशल मीडिया पर बधाई दे रहे हैं.

वरुण गांधी को इसलिए क्योंकि वह एक बच्ची के पिता बने हैं और गुलज़ार को इसलिए क्योंकि आज उनका जन्मदिन है.

इमेज कॉपीरइट AFP

बीबीसी हिंदी के फ़ेसबुक पन्ने पर जन्माष्टमी से जुड़ी एक पिक्चर गैलरी भी ख़ूब पसंद की जा रही है. इसे आप यहां देख सकते हैं.

इसके अलावा रोज़ाना की तरह सलमान, शाहरुख़ और आमिर के फ़ैन अपने-अपने चहेते सितारों को बड़ा साबित करने को लेकर तकरार कर रहे हैं.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार