इराक़ में यूएन का अहम सहायता अभियान

इराक़ के एक शरणार्थी शिविर में एक यज़ीदी महिला इमेज कॉपीरइट Reuters

उत्तरी इराक़ में लड़ाई से विस्थापित हुए पांच लाख से ज़्यादा लोगों को मदद पहुंचाने के मक़सद से शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूएनएचसीआर एक बड़ा अभियान शुरू कर रही है.

सहायता सामग्री तुर्की, जॉर्डन, संयुक्त अरब अमीरात और ईरान से हवाई, सड़क और जल मार्ग से भेजी जाएगी.

संयुक्त राष्ट्र के एक प्रवक्ता के मुताबिक़ ये 'एक बेहद अहम सहायता अभियान है'.

इस्लामिक स्टेट यानी आईएस के चरमपंथियों का उत्तरी इराक़ के कई हिस्सों पर कब्ज़ा है, जहाँ उनका इराक़ी और कुर्द सुरक्षा बलों से संघर्ष जारी है.

संयुक्त राष्ट्र की एक अन्य संस्था विश्व खाद्य कार्यक्रम का कहना है कि उसने पिछले दो हफ़्तों में विस्थापित लोगों को दस लाख से ज़्यादा खाने के पैकेट मुहैया कराए हैं.

इस सहायता पैकेज में शिविर और अन्य चीज़ें शामिल होंगी.

संयुक्त राष्ट्र का सहायता अभियान ऐसे समय में आया है जब पश्चिमी देश उत्तरी इराक़ में इस्लामी चरमपंथियों को बढ़ने से रोकने के लिए इराक़ी सेना और कुर्द सुरक्षा बलों की मदद कर रहे हैं.

सोमवार को अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा था कि उत्तरी इराक़ में मोसूल बांध पर कुर्द बलों ने फिर से कब्ज़ा कर लिया है. बांध पर इस्लामी चरमपंथियों का नियंत्रण था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार