वेश्यालय का संग्रहालय

रेड लाइट म्यूज़ियम

रोज़ शाम सूरज ढलते ही नीदरलैंड्स की राजधानी एम्स्टर्डम का नया रूप दिखता है. यहां के ‘दे वाल्लें’ नाम का इलाक़ा एकदम से लाल रोशनी में नहा उठता है.

'दे वाल्लें' एम्स्टर्डम का सबसे पुराना और जाना-माना रेड लाइट एरिया है.

यहां चार सौ से ज़्यादा खिड़की वाले वेश्यालय हैं. रोज़ रात इन खिड़कियो पर कई लड़कियां तरह-तरह से अपने ग्राहकों को लुभाती हैं.

एम्स्टर्डम का नगर निगम यहां पर देह व्यापार को काफ़ी मदद देता है. इसी इलाक़े में एम्स्टर्डम का पहला वेश्यालय संग्रहालय भी बना है जिसका नाम है ‘रेड लाइट सीक्रेट्स’

ये संग्रहालय यहां सदियों से चल रहे देह व्यापार की कहानी बताता है. इस समय एम्स्टर्डम में सात हज़ार से ज़्यादा यौनकर्मी हैं.

यहां 75 फ़ीसदी यौनकर्मी यूरोप के ग़रीब देशों से पैसा कमाने के लिए आती हैं. सरकार इनका ख़ास ख़्याल रखती है और इन्हें मेडिकल सुविधाएँ भी मिलती हैं.

पहले यहां वेश्यावृत्ति के लिए न्यूनतम उम्र सीमा 18 साल थी जो अब 21 साल कर दी गई है.

इस संग्रहालय में वेश्यालय के अंदर पड़ी चीज़ों का नमूना पेश किया गया है. जैसे बिस्तर, उसके तकिए, कॉस्मेटिक्स का सामान वग़ैरह.

आम तौर पर यौन कर्मी ख़ुद को सजा संवार कर शीशे के पीछे से अपने ग्राहकों को लुभाती हैं.

संग्रहालय में ये है एक रईस वेश्यालय का दृश्य, 20वीं शताब्दी में यहां कुछ इसी तरह से वेश्यालय होते थे.

कुछ ऐसा लगता है जब एक ग्राहक यौनकर्मी को इस शीशे के उस पार से देखता है. इन शीशों के चारों ओर लाल रोशनी लगाई जाती है, जो प्रतीक है रेड लाइट एरिया का. अगर ग्राहक को

लड़की पसंद आ जाती है तो वो दरवाज़े को खट खटाकर अंदर आने की अनुमति लेता है.

संग्रहालय में एक दीवार पर लोगों ने अपनी 'सेक्स लाइफ़' के राज़ बयां किए हैं. यहां अंग्रेज़ी, स्पेनिश, लैटिन के अलावा हिंदी में भी कुछ लोगों ने अपने सीक्रेट लिखे हैं.

एम्सटर्डम का ये रेड लाइट एरिया सुबह छह से आठ बजे को छोड़कर बाक़ी के 22 घंटे खुला रहता है. आम तौर पर एक यौनकर्मी के साथ एक दिन के लिए 150 यूरो यानी लगभग 20 हज़ार रुपए ख़र्च करने पड़ते हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार