हक़्क़ानी नेताओं पर तीन करोड़ डॉलर का ईनाम

अमरीकी जांच एजंसी एफ़बीआई की ओर से जारी जानकारी इमेज कॉपीरइट FBI

अमरीका ने पाकिस्तान स्थित चरमपंथी संगठन हक़्क़ानी नेटवर्क के प्रमुख नेताओं के बारे में सूचनाएं देने वालों के लिए तीन करोड़ डॉलर के पुरस्कार की घोषणा की है.

अमरीकी विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा है, ''विभाग ने अज़ीज़ हक़्क़ानी, ख़लील-अल-रहमान हक़्क़ानी, यहया हक़्क़ानी और अब्दुल रऊफ़ ज़ाकिर का पता बताने वालों के लिए पचास-पचास लाख डॉलर का पुरस्कार घोषित किया है.''

बयान के मुताबिक़ समूह के नेता सिराजुद्दीन हक़्क़ानी पर पहले से घोषित पचास लाख डॉलर के इनाम को बढ़ाकर एक करोड़ डॉलर कर दिया गया है.

अमरीकी विदेश विभाग ने कहा है कि हक़्क़ानी नेटवर्क के अल-क़ायदा और अफ़ग़ान तालिबान के साथ ताल्लुक़ात हैं. उनका इलाक़े के अन्य चरमपंथी संगठनों के साथ भी संबंध हैं.

बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान स्थित हक़्क़ानी नेटवर्क सबसे ख़तरनाक चरमपंथी संगठन है, जो अफ़ग़ानिस्तान में अमरीका के नेतृत्व वाले गंठबंधन सेना और अफ़गानी सैनिकों को निशाना बना रहा है.

अमरीका ने हक़्क़ानी नेटवर्क को चरमपंथी संगठन घोषित कर रखा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार