चीन में आठ लोगों को दी गई मौत

 रविवार, 24 अगस्त, 2014 को 18:43 IST तक के समाचार
तियानएनमेन चौक

चीन में चरमपंथी घटनाओं से जुड़े मामलों में आठ लोगों को मौत की सज़ा दी गई है. इनमें वो तीन लोग भी हैं जिन पर तियानएनमेन चौक पर हमले का आरोप था.

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने इसकी पुष्टि की है.

पांच लोगों पर बम बनाने और आगज़नी जैसे आरोप थे.

सरकार ने हाल ही में हुए सिलसिलेवार हमलों के आरोप शिनजियांग के अलगाववादी चरमपंथियों पर लगाए हैं.

'मास्टरमाइंड'

शिन्हुआ के मुताबिक हुसैन गक्शर, यूसुफ़ व्हेरनियास और यूसुफ़ एहमत तियेनएनमेन चौक पर हुए कार हमले के 'मास्टरमाइंड' थे.

चीनी सुरक्षा कर्मी

पिछले साल अक्तूबर में तियानएनमेन चौक पर एक कार लोगों से टकरा गई थी और इसके बाद कार में आग लग गई थी. इस घटना में दो सैलानी और तीन हमलावर मारे गए थे.

निर्वासित विश्व वीगर कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने इन सज़ाओं को 'क़ानून का राजनीतिक इस्तेमाल' बताया है.

चीन शिनजियांग में होने वाले हमलों का आरोप वीगर अलगाववादियों पर लगाता रहा है.

चीनी अधिकारियों का मानना है कि वीगर पूर्वी तुर्किस्तान के नाम से अलग देश बनाना चाहते हैं.

उरुमक़ी

इसी साल मई में उरूमची में एक बाज़ार में हुए हमले का आरोप भी वीगर अलगाववादियों पर ही लगाया गया था. इस हमले में 31 लोग मारे गए थे.

वहीं वीगर नेता चरमपंथी हमलों के आरोपों को नकारते रहे हैं. उनका कहना है कि शिनजियांग में सरकार की दमनकारी नीतियों ने तनाव पैदा कर दिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप क्लिक करें यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्वीटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.