इराक़: आईएस से छिनी एक अहम पहाड़ी

कुर्द लड़ाका इमेज कॉपीरइट AFP

उत्तरी इराक़ में कुर्द लड़ाकों ने अमरीकी हवाई हमले के सहयोग से सामरिक महत्व की एक पहाड़ी को इस्लामिक स्टेट (आईएस) के क़ब्ज़े से छुड़ा लिया है.

आईएस ने पिछले महीने माउंट ज़ारतक पर क़ब्ज़ा किया था. इस पहाड़ी से मोसुल तक के मैदानी भूभाग पर नज़र रखी जा सकती है.

कुर्द पेशमर्गा लड़ाके धीरे-धीरे माउंट ज़ारतक की तरफ़ बढ़ रहे थे और इसमें उन्हें अमरीकी वायुसेना का सहयोग मिल रहा था.

मोसुल सुन्नी बहुल शहर है और कुर्द लड़ाकों ने कहा है कि उनका इस शहर को आईएस लड़ाकों से मुक्त कराने का कोई इरादा नहीं है.

भीषण लड़ाई

इराक़ में मौजूद बीबीसी संवाददाता जिम म्यूर के मुताबिक़ कुर्द लड़ाकों ने माउंट ज़ारतक पर एक छोटी लेकिन भीषण लड़ाई के बाद फिर से क़ब्ज़ा कर लिया. इस लड़ाई में आईएस के 30 लड़ाके मारे गए.

इमेज कॉपीरइट AFP

हमारे संवाददाता का कहना है कि आस पास के गांवों में अब भी आईएस का क़ब्ज़ा है लेकिन वे कुर्द लड़ाकों की दया पर निर्भर हैं.

कुर्द लड़ाकों ने निनेवेह के पूरे मैदानी भूभाग पर अपना आधिपत्य जमा लिया है.

चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इराक़ और सीरिया के कई हिस्सों पर क़ब्ज़ा कर लिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार